हे राम! यहां तो जनप्रतिनिधि और अफसर ने ही ले ली इनकी जान

Sikar, Rajasthan, India
हे राम! यहां तो जनप्रतिनिधि और अफसर ने ही ले ली इनकी जान

कुछ जिम्मेदारों की साधारण सी गलतियों के कारण दो इंसान और एक पशु की मौत हो गई। तीनों ही मामले सीकर जिले के हैं और तीनों में ही सरकार के जिम्मेदार प्रतिनिधि कठघरे में हैं।

कुछ जिम्मेदारों की साधारण सी गलतियों के कारण दो इंसान और एक पशु की मौत हो गई। तीनों ही मामले सीकर जिले के हैं और तीनों में ही सरकार के जिम्मेदार प्रतिनिधि कठघरे में हैं। पहला मामला पलसाना का है, जहां आरटीओ विभाग के अधिकारी मामूली सा जुर्माना वसूलने के लिए एक ट्रक के पीछे हो गए। ट्रक चालक ने घबराकर तेज गति से वाहन दौड़ाया। नतीजा...ट्रक आगे जा रही टै्रक्टर ट्रोली से टकरा गया और ट्रैक्टर सवार की मौत हो गई। दूसरे मामले में निर्माणाधीन भवन की छत पर काम कर रहा मजदूर उच्च क्षमता की लाइन से छू गया जिससे उसकी मौत हो गई। इस लाइन को निर्माण से पूर्व हटाने के लिए संबंधित क्षेत्र के एईएन और ग्राम पंचायत सरपंच की जिम्मेदारी थी, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। नतीजा...मजदूर की मौत। तीसरे मामले में फतेहपुर में सड़क किनारे तीस फीट गहरी कुई खोद दी गई। इसमें एक सांड गिर गया। पालिका के सीमित संसाधन उसे निकाल नहीं पाए। लोगों ने प्रयास किया, लेकिन सांड की तब तक मौत हो चुकी थी। 



Read:

थाली में आएगा भी नहीं और रुलाकर चला जाएगा, जानें कैसे



बिजली लाइन करवानी थी शिफ्ट,नहीं करवाई, मजदूर की मौत


फतेहपुर इलाके के रोसावां गांव में निर्माणाधीन किसान सेवा केंद्र में काम कर रहे मजदूर की उच्च क्षमता की लाइन के संपर्क में आने से मौत हो गई। इस मामले में बिजली निगम ने सरपंच की लापरवाही मानकर उसके खिलाफ कार्रवाई को लेकर सदर थाने में शिकायत दी है। रोसावां गांव के अटल सेवा केंद्र में किसान सेवा केंद्र का निर्माण चल रहा है। शुक्रवार सुबह यहां काम कर रहा थैथलिया निवासी घड़सी पुत्र करणीराम ऊपर से गुजर रही हाइटेंशन लाइन की चपेट में आ गया। जिससे उसकी मौत हो गई। मामले में बिजली निगम के कनिष्ठ अभियंता की ओर से मौके की प्रस्तुत  रिपोर्ट को सहायक अभियंता ने सदर थाना पुलिस को कार्रवाई के लिए भेजा। रिपोर्ट में लिखा गया है कि इस मामले में कार्यकारी एजेंसी सरपंच रोसावा है। सरपंच को काम शुरू करने से पहले यह लाइन शिफ्ट करवानी चाहिए थी। 



Read:

Video : ट्रक के पीछे थी आरटीओ की गाड़ी, तभी कुछ ऐसा कि चली एक की जान




सड़क किनारे खोद दी 30 फीट गहरी कुई, सांड की मौत


फतेहपुर  शहर में सब्जी मंडी के पास मार्केट निर्माण के दौरान खोदी गई करीब 30 फीट गहरी कुईं में गिरने से एक सांड की मौत हो गई। छह घंटे तक प्रशासन सांड को निकाल नहीं पाया। निकालने के लिए क्रेन तक की व्यवस्था नहीं हो पाई। अंत में बिजली ठेकेदार की लॉरिंग मशीन मंगवाई गई। जिससे बांधकर सांड को बाहर खींचा गया, लेकिन गले में रस्सी का फंदा लगा रहा और वह उस पर झूलता रहा।  जब उसे बाहर निकाला गया तो उसकी मौत हो चुकी थी। 


Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned