किसान बोले... विधानसभा का विशेष सत्र बुलाओ

dinesh rathore

Publish: Jun, 16 2017 03:31:00 (IST)

Sikar, Rajasthan, India
किसान बोले... विधानसभा का विशेष सत्र बुलाओ

विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने, हर खेत को पानी तथा ब्याज मुक्त ऋण देने सहित विभिन्न मांगों को लेकर भारतीय किसान संघ राजस्थान प्रदेश के बैनर तले सीकर व झुंझुनूं जिले के किसानों ने गुरुवार को सीकर के रामलीला मैदान में दिनभर तेज गर्मी में पड़ाव डाला।

विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने, हर खेत को पानी तथा ब्याज मुक्त ऋण देने सहित  विभिन्न मांगों को लेकर भारतीय किसान संघ राजस्थान प्रदेश के बैनर तले सीकर व झुंझुनूं जिले के किसानों ने गुरुवार को सीकर के रामलीला मैदान में दिनभर तेज गर्मी में पड़ाव डाला। वक्ताओं ने कहा कि विभिन्न मुद्दों को लेकर विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया जाता है, उसी प्रकार किसानों की समस्याओं के समाधान के लिए भी विशेष सत्र बुलाया जाए। फसल की लागत में किसान का लाभ जोड़कर समर्थन मूल्य घोषित किया जाए तथा उस मूल्य पर सरकारी खरीद की गारंटी दी जाए। हर खेत को सिंचाई का पानी उपलब्ध करवाया जाए। किसानों के लिए अलग से बिजली नीति बने। बिजली पूरी मिले तथा सस्ती हो। किसान के पास फसल के पैसे वर्ष में मात्र दो बार ही आते हैं, जबकि बिजली के बिल हर दो माह में भरने होते हैं, इसलिए साल में केवल दो बार ही बिजली का बिल लिया जाए। फसल बीमा की योजना बनाई जाए।  

कार से नहीं उतरी एसडीएम

पड़ाव स्थल पर सरकार की भी नजर रही। इसके अलावा पुलिस भी तैनात रह। दोपहर को एसडीएम मौके पर आई। किसानों का आरोप है कि वे उनसे वार्ता करना चाहते थे, लेकिन एसडीएम 15 मिनट तक कार में ही बैठी रही, वह कार से उतरी नहीं। इस कारण उनसे वार्ता नहीं हुई। वहीं एसडीएम जूही भार्गव का कहना है कि वे शांति व्यव्यस्था के लिए राउण्ड पर गई थी, अगर किसान बात करते तो उनकी बात जरूर सुनी जाती। उसके बाद शाम को चार बजे बाद एडीएम पड़ाव स्थल पर पहुंंचे। आश्वासन के बाद किसानों ने पड़ाव समाप्त कर दिया।  गजानंद कुमावत ने बताया कि पड़ाव में शामिल किसानों को प्रचारक परमानंद, सीकर जिला अध्यक्ष शिवपाल बलौदा, झुंझुनूं जिलाध्यक्ष डॉ संदीप शास्त्री मौजूद थे।

कर्जा माफी के लिए आज मंडी में जुटेंगे किसान

सीकर. केन्द्र व राज्य सरकार की किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ अखिल भारतीय किसान सभा की ओर से शुक्रवार को सुबह 11 बजे से कृषि उपज मंडी में आमसभा की जाएगी। महासचिव सागर खाचरिया ने बताया कि सभा में किसानों का कर्जा माफ करने की मांग प्रमुखता से उठाई जाएगी। सभा को राष्ट्रीय अध्यक्ष अमराराम, पेमाराम, किशन पारीक, रुघाराम भामू, मोहन फौजी व अन्य सम्बोधित करेंगे। सभा के लिए पूरे जिले से कार्यकर्ता तैयारियों में                जुटे हुए हैं। 

सभा को देखते हुए पुलिस व प्रशासन ने भी इंतजाम कर लिए हैं। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि सभा के दौरान अलग-अलग जगह लगभग 500 जवान तैनात रहेंगे।

यह हैं प्रमुख मांग

-किसानों का सम्पूर्ण कर्जा माफ किया जाए।

- फसलों का लाभकारी मूल्य दिलाया जाए।

- पशुओं के बेचने पर लगाई गई पाबंदी का कानून 2017 वापस लिया जाए।

-आवारा पशुओं की समस्याओं का समाधान किया जाए।

-सहकारी समिति के कर्जों में कटौती बंद की जाए। सभी किसानों को सहकारी समितियों से  फसली ऋण दिया जाए।

-स्वामी नाथन आयोग की सिफारिशों को लागू किया जाए।

-सभी बेरोजगारों को रोजगार दिया जाए।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned