सीकर: राजस्थान के सरकारी विद्यालयों का औसत परिणाम सुधरा, लेकिन इन 7 जिलों में स्थिति चिंताजनक, पढ़ें चौंका देने वाले आंकड़े...

dinesh rathore

Publish: Jul, 16 2017 12:19:00 (IST)

Sikar, Rajasthan, India
सीकर: राजस्थान के सरकारी विद्यालयों का औसत परिणाम सुधरा, लेकिन इन 7 जिलों में स्थिति चिंताजनक, पढ़ें चौंका देने वाले आंकड़े...

राजस्थान के सात जिलों के सरकारी विद्यालयों की पढ़ाई की स्थिति चिंताजनक है। पूरे राज्य में जहां बोर्ड परीक्षाओं के परिणाम में सुधार हुआ है, वहीं सात जिलों का परिणाम औसत से भी न्यून रहा है।

राजस्थान के सात जिलों के सरकारी विद्यालयों की पढ़ाई की स्थिति चिंताजनक है। पूरे राज्य में जहां बोर्ड परीक्षाओं के परिणाम में सुधार हुआ है, वहीं सात जिलों का परिणाम औसत से भी न्यून रहा है। माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के निदेशक ने भी लिखा है कि सात जिलों में शिक्षण व्यवस्था की दशा चिंताजनक है। राज्य के डूंगरपुर, कोटा, पाली, सवाईमाधोपुर, उदयपुर, राजसमंद तथा करौली में दसवीं तथा बारहवीं के तीनों वर्गों(कला, विज्ञान व वाणिज्य) का परिणाम औसत से भी कम रहा है। माध्यमिक शिक्षा के निदेशक नथमल डिडेल ने सातों जिलों के जिला शिक्षा अधिकारियों को पत्र लिखकर अगले वर्ष का परिणाम सुधारने के निर्देश दिए हैं। इसके लिए उन्होंने लिखा है कि परिणाम में सुधार के लिए अभी से वृहद कार्ययोजना बनाई जाए। क्रियान्विति इसी माह से की जाए। 




Read also:

सीकर: परिणाम देने में पिछड़ गए राज्य के 1705 स्कूल, यह आंकड़े आपको भी चौंका देंगे...





ऐसे सुधरा पूरे राज्य का परिणाम

कक्षा           2016   2017  परिणाम

दसवीं           75.89    78.96

12 वीं कला     86.51     89.05

विज्ञान          88.53     90.36

वाणिज्य        88.61     90.88


सुधार के यह बताए छह बिन्दू

  • निर्धारित मानदण्डों से न्यून परीक्षा परिणाम वाले विद्यार्थियों के लिए विशिष्ट कार्ययोजना बनाई जाए।
  • उसकी क्रियान्विति तय की जाए।
  • पाठ्यक्रम की पूर्णता।
  • अधिगम स्तर के अनुरूप कठिनाई निवारण। 
  • पुनरावृत्ति एवं यूनिट टेस्ट।
  • विषयाध्यापक की भूमिका।10 वीं में इनका परिणाम न्यून
अजमेर, बांसवाड़ा, भीलवाड़ा, बूंदी, चित्तौडग़ढ़, डूंगरपुर, झालावाड़, कोटा, पाली सवाईमाधोपुर, सिरोही, उदयपुर, धौलपुर, दौसा, बारां, राजसमंद, करौली और प्रतापगढ़ में दसवीं का परिणाम औसत से न्यून रहा है। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned