राजस्थान के इन खिलाड़ियों का सपना हो गया चूर-चूर, इनका हाल ऐसा कि आप भी हो जाएंगे बेहाल

Sikar, Rajasthan, India
राजस्थान के इन खिलाड़ियों का सपना हो गया चूर-चूर, इनका हाल ऐसा कि आप भी हो जाएंगे बेहाल

राजस्थान में खिलाडिय़ों के साथ सरकार का व्यवहार ठीक नहीं है। सीकर में खिलाडिय़ों के लिए कोई उचित व्यवस्था भी नहीं है और न ही इन खिलाडिय़ों को किसी तरह का कोई सरकार की ओर से आर्थिक सहयोग दिया जाता है। जबकि पास के हरियाणा प्रदेश में सरकार खिलाडिय़ों को कई तरह की सुविधाएं मुहैया कराती है।

वर्षों से एकेडमी की बाट जोह रहे खिलाडि़यों को फिर डीसीए पदाधिकारियों ने बड़े सपने दिखाए हैं। डीसीए सचिव ने कहा कि जल्द सीकर में जोनल एकेडमी स्थापित की जाएगी। अब तक एकेडमी नहीं बनने के सवाल पर सचिव सुभाष जोशी ने कहा कि राजनैतिक निर्बलता के कारण सब प्रस्ताव अटके हुए हैं। वे शुक्रवार को सीकर में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। 


वहीं डीसीए में वर्षो से जमे फर्जी क्लबों के सवाल पर सचिव ने गोलमाल जवाब दिए। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में ही क्लबों का यही हाल है। जब उनसे खेल सुविधा व संसाधनों को लेकर बातचीत की तो कहा कि सीकर जिले में खेल लगातार आगे बढ़ रहे हैं। 


इससे पहले आरसीए में नव निर्वाचित कार्यकारी सदस्य कृष्ण कुमार निमावत का ओमप्रकाश शर्मा, चन्द्रभान गोयल सहित ने स्वागत किया। इस मौके पर जिला संघ के उपाध्यक्ष आमीन गौड़, सयुंक्त सचिव दिनेश कुमार माथुर, आलोक सेठी सहित अन्य पदाधिकारी मौजूद रहे। 





Read:

#SPORTS: क्या आप इन्हें पहचानते हैं, तो जान लीजिए इनके बारे में, ये हैं..



ज्यादातर सवालों को टाल गए 


डीसीए सचिव से पत्रकारों ने कई वर्षों बाद भी क्रिकेट एकेडमी नहीं बनने और कागजों में चल रहे क्लबों पर कार्रवाई करने सहित अन्य सवाल पूछे तो वह टाल गए। जिला में फर्जी खेल प्रतियोगिता के सवाल पर सचिव ने कहा कि इसमें डीसीए कुछ नहीं कर सकता है।





Read:

हर जगह ठगे जा रहे सीकर के ये खिलाड़ी



क्रिकेट के लिए दुखदायी रहे चार साल 


राजस्थान क्रिकेट संघ के लिए पिछले चार साल काफी दुखदायी रहे। बीसीसीआई की ओर से मान्यता प्रदान नहीं किए जाने के कारण खिलाडिय़ों व खेल पर काफी बुरा असर पड़ा।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned