पुजारी का इनसे ऐसा प्रेम कि इन्हें बना लिया...

dinesh rathore

Publish: Mar, 21 2017 03:20:00 (IST)

Sikar, Rajasthan, India
पुजारी का इनसे ऐसा प्रेम कि इन्हें बना लिया...

कस्बे के गहणिया मंदिर में रहने वाले प्रहलाद राय पुजारी का घर 800 चिडिय़ां की चहचहाट से गुलजार है। प्रहलाद राय 32 साल पहले छह जोड़े चिडिय़ों के लेकर आए थे।

कस्बे के गहणिया मंदिर में रहने वाले प्रहलाद राय पुजारी का घर 800 चिडिय़ां की चहचहाट से गुलजार है। प्रहलाद राय 32 साल पहले छह जोड़े चिडिय़ों के लेकर आए थे। इसके बाद तो ये चिडिय़ा ही इस परिवार की जिंदगी का हिस्सा बनकर रह गई। इनके लिए एक बड़ा पिंजरा बनाया गया और उसमें विशेष घोंसले भी तैयार किए गए हैं। रोज सुबह इन चिडिय़ाओं को दाना पानी डालना परिवार के हर सदस्य का काम है। करीब दो हजार चिडिय़ां ये लोग विभिन्न जगहों पर दे भी चुके हैं। कई मंदिरों में इनके यहां से चिडिय़ां ले जाई गई हैं। 



Read:

...तो इसलिए हमें छोड़कर चली गईं गौरैया, कारण ऐसा कि...



बचपन से डालते हैं दाना


श्रीमाधोपुर कस्बे के वार्ड 23 निवासी विकास मीणा पक्षियों के प्रति लगाव रखते हैं जो रोज रंग बिरंगी गौरेया को दाना पानी व रहने की व्यवस्था करते है।  घर के बाहर ही किराना की दुकान चलाने वाले मीणा बताते हैं कि वे बचपन से ही चिडिय़ां को दाना डालते आ रहे हैं। वे गौरेया के साथ लवबर्ड व बजरी तोता की पालने लगे जिनको दिन में घर में खुल्लों व शाम को पिजंरे में मिट्टी के मटकों में घर बनाकर उनमें रखते है जिससे कुत्ता या बिल्ली से बचाया जा सके।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned