पशु चिकित्सक रहे सावधान, खतरनाक ब्रुसोलिसिस का संक्रमण फैल रहा है आपके शरीर में, आप भी चौंक जाएंगे जब जानेंगे ब्रुसोलिसिस के बारे में...

dinesh rathore

Publish: Jul, 09 2017 11:22:00 (IST)

Sikar, Rajasthan, India
पशु चिकित्सक रहे सावधान, खतरनाक ब्रुसोलिसिस का संक्रमण फैल रहा है आपके शरीर में, आप भी चौंक जाएंगे जब जानेंगे ब्रुसोलिसिस के बारे में...

पशुओं की सबसे गंभीर बीमारी बु्रसोलिसिस का संक्रमण अब पशु चिकित्सकों तक पहुंच गया है। पशु चिकित्सकों की ओर से एक रेंडमली किए गए सर्वे में ये बात सामने आई है।

पशुओं की सबसे गंभीर बीमारी बु्रसोलिसिस का संक्रमण अब पशु चिकित्सकों तक पहुंच गया है। पशु चिकित्सकों की ओर से एक रेंडमली किए गए सर्वे में ये बात सामने आई है। सर्वे के अनुसार पशु चिकित्सालयों में काम करने वाले सौ में से पांच कर्मचारी ब्रुसोलिसिस रोग के लक्षण नजर आए हैं। सर्वे के बाद पशु चिकित्सा से जुड़े लोग बु्रसेला वायरस से बचने के लिए जतन कर रहे हैं लेकिन फिर भी इन लोगों में इस गंभीर रोग से ग्रसित होने की चिंता है। जिला मुख्यालय पर वेटनरी कॉउसिंल की ओर से नमूने लिए गए थे। दो कर्मचारी ग्रसित मिले थे। 





Read also:

पड़ताल: बिना वजन लिए कैसे हो कुपोषित बच्चों की पहचान, आखिर कैसे सुधरें हालात...





ऐसे होता है संक्रमण


ब्रुसोलिसिस रोग ब्रुसेला अबोरटस नामक बैक्टिरिया के कारण होता है। यह बैक्टिरिया भोजन के जरिए पशुओं की बॉडी में पहुंचता है। बाद में संक्रमित पशुओं के उपचार के दोरान सावधानी नहीं बरतने के कारण पशु चिकित्सा कार्य में जुटे लोग संक्रमित हो जाते हैं। इसके अलावा दूध व मलमूत्र के सम्पर्क में आने पर भी ये रोग मनुष्यों तक पहुंचता है। इस रोग के कारण जल्दी थकान, अंडकोष में सूजन, हड्यिों व जोडों में दर्द की रहता है। इसके अलावा कई बार पुरुषों में स्थाई नपुंसकता आ जाती है। 


बकरियां है वजह...

ब्रुसेला वायरस का मुख्य स्रोत बकरियां होती है। पशु चिकित्सा में सावधानी नहीं बरते जाने के कारण चिकित्सक व कर्मचारी रोग की चपेट में आ रहे हैं। वेटनरी कॉउसिंल की ओर से लिए गए नमूनों में दो कर्मचारी ब्रुसोलिसिस पॉजीटिव मिले थे। - डा. नरेन्द्र मेहता, पूर्व सहायक निदेशक, पशुपालन विभाग


बैक्टिरिया की खोज सन 1887 में सर डेविड ब्रूस ने की थी।   ब्रूसोलिसिस रोग से ग्रसित व्यक्ति के संक्रमण के बारे में जांच के दौरान आसानी से पता नहीं चलता है। - डा. अतुल गोगना, निजी चिकित्सक, जयपुर   

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned