बीपीएल की चाय में मिठास हुई फीकी

pawan uppal

Publish: Jun, 17 2017 09:26:00 (IST)

Sri Ganganagar, Rajasthan, India
बीपीएल की चाय में मिठास हुई फीकी

राज्यभर में बीपीएल व अंत्योदय परिवारों को लेवी चीनी नहीं मिलने से चाय की मिठास फीकी हो रखी है। खाद्य नागरिक एवं आपूर्ति विभाग ने नए वित्तीय वर्ष के ढाई माह बीत जाने के बावजूद लेवी चीनी का आवंटन नहीं किया है।

राज्यभर में बीपीएल व अंत्योदय परिवारों को लेवी चीनी नहीं मिलने से चाय की मिठास फीकी हो रखी है। खाद्य नागरिक एवं आपूर्ति विभाग ने नए वित्तीय वर्ष के ढाई माह बीत जाने के बावजूद लेवी चीनी का आवंटन नहीं किया है। इस कारण श्रीगंगानगर जिले के 95 हजार बीपीएल एवं अंत्योदय परिवारों को लेवी चीनी नहीं मिल रही है। श्रीगंगानगर के अलावा राज्य के अन्य जिलों में भी यही स्थिति बनी हुई है। 



Video: पाई समर कैम्प का ग्रांड फिनाले संम्पन



रसद विभाग बीपीएल एवं अन्त्योदय परिवार को प्रति माह प्रति यूनिट500 ग्राम चीनी देता है। बाजार में चीनी का रेट 43 रुपए प्रति किलो तक है जबकि इन परिवारों को उचित मूल्य की दुकान पर 24 रुपए प्रति किलो के हिसाब से लेवी चीनी मिलती है। पत्रिका ने इस संबंध में खाद्य नागरिक एवं आपूर्ति विभाग की महाप्रबंधक प्रशासन प्रति माथुर से पूछा कि चीनी की आपूर्ति क्यों नहीं हो रही है। इस संबंध में उन्होंने कहा कि कुछ नहीं कहा जा सकता है। 

क्यों नहीं मिल रही है चीनी

खाद्य नागरिक एवं आपूर्ति विभाग के सूत्रों का कहना है कि श्रीगंगानगर ही नहीं राज्य भर में लेवी चीनी का नए सिरे से टेंडर नहीं हुआ है। इस कारण चीनी की आपूर्ति नहीं हो रही है। इससे पहले 31 मार्च 2017 तक चीनी आपूर्ति करने के लिए टेंडर हुए थे। अब राज्यभर में नए सिरे से फिर से चीनी का टेंडर होने के बाद चीनी की आपूर्ति हो पाएगी। 

प्रति माह जिले को चीनी का आवंटन 220.7 एमटी

लेवी चीनी मिलती है प्रति किलो 24 रुपए किलो 

बाजार में चीनी का रेट प्रति किलो 43 रुपए

प्रति व्यक्ति को मिलती है चीनी 500 ग्राम 

श्रीगंगानगर जिले में उचित मूल्य के दुकानदार 721

श्रीगंगानगर जिला

82,437

बीपीएल परिवार

12,383 

अंत्योदय परिवारराज्य

25,17,525

बीपीएल परिवार

6,69,013

अंत्योदय परिवार


31 मार्च तक सभी डिपो होल्डर को चीनी आवंटित कर दी गई है और नए वित्तीय वर्ष में चीनी का कोटा आवंटित् नहीं हुआ है। 

राकेश सोनी, 

प्रवर्तन अधिकारी, रसद विभाग

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned