आरएमपी के घर से लाखों के सोने-चांदी के गहने पार

pawan uppal

Publish: Jun, 20 2017 08:23:00 (IST)

Sri Ganganagar, Rajasthan, India
आरएमपी के घर से लाखों के सोने-चांदी के गहने पार

मुकलावा पुलिस थाना क्षेत्र के गांव 3 एमके में बीती रात अज्ञात चोर आरएमपी रामकुमार पुत्र गुरबक्षसिंह राजपूत के घर से लाखों के गहने और नकदी पार कर ले गए। वारदात के समय परिवार के सदस्य घर में सो रहे थे।

मुकलावा पुलिस थाना क्षेत्र के गांव 3 एमके में बीती रात अज्ञात चोर आरएमपी रामकुमार पुत्र गुरबक्षसिंह राजपूत के घर से लाखों के गहने और नकदी पार कर ले गए।  वारदात के समय परिवार के सदस्य घर में सो रहे थे। सुबह जब परिवार के सदस्य उठे तो वारदात का पता चला। घर में कमरों को खुला देखकर रामकुमार सिंह को संदेह हुआ जिस पर उसने कमरों के अंदर जाकर देखा तो सामान बिखरा देख अवाक रह गया। 



Video: सात दिन में सड़क मार्ग शुरू नहीं किया तो सड़क जाम किया जाएगा



अज्ञात चोर उसके घर से करीब 50 तोला सोने के गहने, 800 ग्राम चांदी के गहने तथा 20 हजार रुपए की नकदी पार कर गए। रामकुमार ने वारदात का पता चलते ही उसने तुरंत पुलिस को सूचना दी। जानकारी अनुसार रामकुमार राजपूत के घर एक रोज पूर्व हीे मेहमान आए हुए थे जो रात को खाना खाने के बाद दूसरे घर में सोने के लिए चले गए जबकि रामुकमार, उसकी माता व भतीजा सौरभ आंगन में ही सो गए। 



Video: किसान आन्दोलन के समर्थन में आज रहेगी धान मंडी बंद



रामकुमार ने पुलिस को बताया कि रात के समय अज्ञात चोर उसके घर की दीवार को फांद कर घर में घुस गए तथा मकान के सभी कमरों को खंगाला। वारदात के समय रामकुमार की पत्नी व बेटे ननिहाल गए हुए थे। रामकुमार ने बताया कि एक अलमारी में उसकी पत्नी व भाभी के गहने रखे हुए थे। पुलिस के अनुसार चोर इतने पेशेवर है कि घर में ही सो रहे तीनों लोगों को भनक तक नहीं लगने दी। 


Video: लाखों खर्च फिर भी हलक सूखे,नही हो रही पेयजल आपूर्ति



वारदात का पता चलते ही पुलिस उपाधीक्षक आनंद स्वामी भी मौके पर पहुंचे तथा वारदात का ब्यौरा मुकलावा पुलिस से लिया। पुलिस फिलहाल पूरे मामले की गहनता से जांच कर रही है तथा परिवार के सदस्यों से भी पूरा विवरण जुटाया जा रहा है।

चार कमरे खंगाल दिए फिर भी आहट नहीं लगी

अज्ञात चोरों ने पेशेवर तरीके से चोरी की वारदात को अंजाम दिया है। अज्ञात चोर काफी देर तक घर खंगालते रहे। घर में बने चारों कमरों के दरवाजे खोलकर अंदर रखी दो अलमारियों के ताले तोड़े। दोनों अलमारियों का सामान बिखेरकर गहने पार किए तथा दीवार फांदकर वापस लौट गए। जबकि आंगन मेें ही सो रहे तीन जनों को आहट तक नहीं लगी। हालंकि करीब ढाई बजे लघुशंका के लिए खुद रामकुमार जागा भी था। उधर रामकुमार के भतीजे सौरव ने बताया कि सोने से पहले उसने सभी कमरों के दरवाजे बंद किए थे। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned