योगी के सीएम बनते ही हिंदू युवा वाहिनी का बढ़ा क्रेज, सदस्यता को लेकर लोगों में मची होड़

State
योगी के सीएम बनते ही हिंदू युवा वाहिनी का बढ़ा क्रेज, सदस्यता को लेकर लोगों में मची होड़

हिंदुत्ववादी संगठन हिंदू युवा वाहिनी को योगी आदित्यनाथ ने साल 2002 में बनाया था। हिंदू युवा वाहिनी के गोरखपुर मुख्यालय के वरिष्ठ पदाधिकारी के मुताबिक, हर दिन हजारों की संख्या में आवेदन आ रहे हैं।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद उनका संगठन काफी प्रसिद्ध हो रहा है। बड़ी संख्या में लोग हिंदू युवा वाहिनी के सदस्य बनना चाहते हैं। जिसको देखते हुए संगठन को नए लोगों को सदस्य बनाने के लिए कई नए नियम भी बनाने पड़ गए। 



तो वहीं हिंदू युवा वाहिनी का सदस्य बनने की चाहत रखने वालों में सबसे ज्यादा संख्या युवाओं की है। कथित तौर पर लगभग हर दिन पांच हजार लोग वाहिनी से जुडऩे के लिए आवेदन कर रहे हैं। संगठन के राज्य प्रभारी पी.के. माल ने कहा है कि वाहिनी का सदस्य बनने के लिए नए नियम लागू कर दिए गए हैं। बड़ी संख्या में लोग संगठन में शामिल होकर इसकी छवि भी खराब कर सकते हैं। इसे देखते हुए सदस्य बनाने से पहले आवेदक की पृष्ठभूमि भी जांची जाएगी।



इसके अलावा उन्होंने कहा कि हिंदू युवा वाहिनी में सदस्य बनने के लिए किसी राजनैतिक पार्टी से उसके झुकाव के बारे में जानकारी लेनी होगी। इसके बाद एक साल तक संगठन की जांच समिति के नियमों से गुजरना होगा। 



गौरतलब है कि हिंदुत्ववादी संगठन हिंदू युवा वाहिनी को योगी आदित्यनाथ ने साल 2002 में बनाया था। हिंदू युवा वाहिनी के गोरखपुर मुख्यालय के वरिष्ठ पदाधिकारी के मुताबिक, हर दिन हजारों की संख्या में आवेदन आ रहे हैं। संगठन के मुताबिक करीब पांच हजार लोग हर दिन सदस्य बनने के लिए आवेदन कर रहे हैं। जबकि इससे पहले हर महीने मात्र 500 से 1000 आवेदन ही आते थे। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned