इलाहाबाद हाईकोर्ट का एटॉर्नी जनरल से सवाल, योगी का एक साथ सांसद और CM बने रहना कितना जायज

Punit Kumar

Publish: May, 16 2017 01:06:00 (IST)

State
इलाहाबाद हाईकोर्ट का एटॉर्नी जनरल से सवाल, योगी का एक साथ सांसद और CM बने रहना कितना जायज

कोर्ट ने एटॉर्नी जनरल रोहतगी को आदेश समाजसेवी संजय शर्मा की याचिका पर दिया है। जिसमें कहा गया है कि यूपी सीएम योगी और डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य एक साथ बतौर सासंद भी वेतन पा रहे हैं।

इलाहाबाद हाईकोर्ट द्वारा इस बार एक याचिका की सुनवाई करते हुए भारत सरकार के एटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी को पेश होने को कहा है। जहां कोर्ट ने रोहतगी से सवाल करते हुए कहा कि योगी आदित्यनाथ और यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य एक साथ दो पदो पर कैसे रह सकते हैं। 


बिना पानी की मछली की तरह तड़प रहे केजरीवाल: कपिल मिश्रा


कोर्ट ने एटॉर्नी जनरल रोहतगी को आदेश समाजसेवी संजय शर्मा की याचिका पर दिया है। जिसमें कहा गया है कि यूपी सीएम योगी और डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य एक साथ बतौर सासंद भी वेतन पा रहे हैं और सारी सुविधाएं भी। ऐेसे में दोनों ही यूपी में सीएम और डिप्टी सीएम पद पर बनें नहीं सकते हैं। 



वहीं संजय शर्मा ने अपनी याचिका में कहा है कि संसद अधिनियम 1959 के प्रावधानों के तहत कोई भी व्यक्ति एक साथ दो पदों पर बना नहीं रह सकता है। इसके साथ ही उन्होंने यूपी सीएम योगी और केशव प्रसाद मौर्य की नियुक्ति को रद्द करने की अपील की है। 


बिहार में राजद नेता पप्पू यादव की गोली मारकर हत्या


इलाहाबाद हाइकोर्ट में मामले की अगली सुनवाई के लिए 24 मई को होगी। गौरतलब है कि यूपी विधानसभा में बीजेपी की जीत के बाद योगी आदित्यनाथ और केशव प्रसाद मौर्य ने 19 मार्च को मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी। बावजूद इसके सीएम योगी गोरखपुर और केशव प्रसाद मौर्य फूलपुर संसदीय क्षेत्र से सांसद हैं। और इसी आधार पर इन दोनों के खिलाफ याचिका दाखिल की गई है। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned