मंत्री तेजप्रताप ने लालू यादव के इलाज के लिए घर पर की सरकारी डॉक्टरों की तैनाती, BJP ने सीएम से मांगी सफाई

Punit Kumar

Publish: Jun, 13 2017 05:00:00 (IST)

State
मंत्री तेजप्रताप ने लालू यादव के इलाज के लिए घर पर की सरकारी डॉक्टरों की तैनाती, BJP ने सीएम से मांगी सफाई

अस्पताल के तीन सीनियर डॉक्टर्स और नर्स की ड्यूटी 31 मई 2017 से लेकर 8 जून 2017 तक स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव के सरकारी आवास 10 सर्कुलर रोड पर लगाई गई थी।

बिहार में आए दिन राजद को नई चुनौतियों का समना करना पड़ रहा है। इस बार प्रदेश के पूर्व सीएम और राजद अध्यक्ष लालू यादव के घर IGIMS के डॉक्टरों की तैनाती को लेकर नया विवाद खड़ा हो गया है। लालू यादव पर अपने आवास में सरकारी खर्च से इलाज कराने का आरोप लगा है। जहां पिछले 10 दिनों से डॉक्टरों और नर्स की टीम ने लालू के घर पर रहकर बीमारी के दौरान उनका इलाज किया है। 



बिहार की राजधानी पटना के इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान (IGIMS) के तीन सीनियर डॉक्टर्स की ड्यूटी सूबे के स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप के घर लगाए जाने का मामला IGIMS के कार्यालय से आदेश पत्र सामने आने के बाद सुर्खियों में आया है। पत्र के मुताबिक, अस्पताल के तीन सीनियर डॉक्टर्स और नर्स की ड्यूटी 31 मई 2017 से लेकर 8 जून 2017 तक स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव के सरकारी आवास 10 सर्कुलर रोड पर लगाई गई थी।



बिहार के स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव अपने लालू यादव के साथ 10 सर्कुलर रोड पर रहते हैं। इस मामले पर विवाद बढ़ने के बाद IGIMS के डॉक्टर पीके सिन्हा ने कहा है कि लालू यादव के नाम पर कोई डॉक्टर नहीं भेजा गया है। इसके अलावा अस्पताल प्रशासन ने यह बताने से इनकार किया है कि डॉक्टरों की टीम किसके उपचार के लिए तैनात की गई थी। उनका कहना कि मंत्री तेजप्रताप के घर किसी का इलाज चल रहा था। 



तेजप्रताप के घर पर डॉक्टरों की तैनाती को लेकर बिहार बीजेपी ने सरकार पर निशाना साधा है। बीजेपी का कहना है कि स्वास्थ्य मंत्री ने अपने पिता के इलाज के लिए सरकारी अस्पताल के डॉक्टर और नर्स की ड्यूटी अपने घर पर लगा दी है। इसे लेकर उन्होंने मामले पर बिहार के सीएम नीतीश कुमार से भी स्पष्टीकरण मांगी है। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned