त‍मिलनाडुः पनीरसेल्वम की जिद की जीत, शश‍िकला का पूरा परिवार पार्टी से बाहर

balram singh

Publish: Apr, 18 2017 11:11:00 (IST)

State
त‍मिलनाडुः पनीरसेल्वम की जिद की जीत, शश‍िकला का पूरा परिवार पार्टी से बाहर

एक तरह से देखा जाए तो ये पनीरसेल्वम की ही जीत हुई है क्योंकि उन्होंने वार्ता में साफ कर दिया था कि शशिकला और उनके परिवार की अन्नाद्रमुक से विदाई के बाद ही कोई करार संभव है।

तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता के निधन के बाद AIADMK में घमासान हो गया था। पार्टी विके शशिकला और पूर्व मुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम खेमें बट गई थी। पर इस शह मात के खेल में आखिरकार शशिकला और उसके परिवार को पार्टी से बाहर कर ही दिया गया।



तमिलनाडु सरकार के मंत्री डी. जयकुमार ने कहा कि हमारी पार्टी के सभी नेताओं ने मिलकर शशिकला और टीटीवी दिनाकरन सहित पूरे परिवार को पार्टी से बाहर करने का फैसला लिया है। हमारी पोर्टी को कोई एक परिवार नहीं चला सकता।




दोनों गुटों को एक साथ लाने के लिए विधायकों और मंत्रियों के अलाव पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने कई दौर की बैठक की। सोमवार रात को विधायकों ने बैठक की थी और दोनों गुटों को एकजुट करने के प्रयासों की जानकारी दी दी थी। मुख्यमंत्री पलानीसामी ने पनीरसेल्वम गुट से बात करने के लिए समिति गठित करने का ऐलान किया था। कहा जा रहा है कि इस काम के लिए पन्नीरसेल्वम को राज्य का वित्तमंत्री बनाया जा सकता है।



दिनाकरन ने की थी रिश्वत देने की कोशिश

शशि‍कला के भतीजे दिनाकरन पर आरोप है कि उन्होंने पार्टी के चिनाव चिन्ह को शशिकला धड़े के नाम करवाने के लिए चुनाव आयोग के अधिकारियों को रिश्वत देने की कोशिश की।




एक तरह से देखा जाए तो ये पनीरसेल्वम की ही जीत हुई है क्योंकि उन्होंने वार्ता में साफ कर दिया था कि शशिकला और उनके परिवार की अन्नाद्रमुक से विदाई के बाद ही कोई करार संभव है। उन्होंने कहा कि पार्टी संस्थापक एमजी रामचंद्रन और अम्मा का सिद्धांत था कि पार्टी पर किसी परिवार का कब्जा नहीं हो। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned