नार्मल कॉल सुनने के भी मिलेंगे पैसे, आईआईटी दिल्ली के दो लड़कों ने बनाया नया एप

santosh trivedi

Publish: Aug, 18 2016 08:13:00 AM (IST)

Technology
नार्मल कॉल सुनने के भी मिलेंगे पैसे, आईआईटी दिल्ली के दो लड़कों ने बनाया नया एप

आईआईटी दिल्ली के दो लड़कों ने एक ऐसा एप बनाया है जिससे सामान्य कॉल यानी आपके दोस्तों, रिश्तेदारों के कॉल पर भी आपको पैसे मिलेंगे। यह कोई कल्पना नहीं बल्कि सच है।

एक समय था जब कॉल आने पर पैसे लगते थे। कॉल दरें सस्ती हुईं, तो वो समय आया जब इनकमिंग कॉल फ्री हुईं। अब समय है जबकि कॉल आने पर आपको पैसे मिलते हैं, लेकिन यह अब तक विज्ञापन कॉल या फिर सर्वे कॉल तक ही सीमित था। 



आईआईटी दिल्ली के दो लड़कों ने एक ऐसा एप बनाया है जिससे सामान्य कॉल यानी आपके दोस्तों, रिश्तेदारों के कॉल पर भी आपको पैसे मिलेंगे। यह कोई कल्पना नहीं बल्कि सच है।  आईआईटी दिल्ली से पास आउट हुए दिव्या प्रताप और राकेश सहगल ने अपने साथियों के साथ मिलकर पेट्यून्स नाम की यह मोबाइल एप बनाई है। 



60 लाख के गिफ्ट

अभी तक ये एप 5 लाख से ज्यादा डाउनलोड हो चुका है। इस दौरान पेट्यून्स ने 1 लाख से अधिक यूजर्स को 60 लाख रुपए से अधिक के रिचार्ज और गिफ्ट्स दिलाए हैं।



ऐसे काम करता है एप

पेट्यून्स एप आपके फोन पर आने वाली कॉल्स पर बजने वाली रिंगटोन को कंपनियों के विज्ञापन में तब्दील कर देती है। इस तरह हर आने वाली कॉल पर यूजर को पुरानी बोरिंग घंटी के बजाए नई नई धुनें सुनाई देती हैं। इसके बदले में यह एप हर कॉल पर यूजर्स को कुछ प्वाइंट देती है। यूजर्स इन प्वाइंट का इस्तेमाल करके अपना फोन रीचार्ज करा सकते हैं। 



जरूरी नहीं इंटरनेट

खास बात यह है कि पेट्यून्स एप बिना इंटरनेट के काम करती है। अन्य एप भी फ्री रिचार्ज और प्राइज देती हैं, लेकिन अधिकतर कुछ भी मुफ्त नहीं देती और यूजर्स से एप डाउनलोड या सर्वे करवाती हैं। साथ ही इन एप के लिए आपको इंटरनेट पर रहना आवश्यक है। 

1
Ad Block is Banned