गांव के युवाओं की अनूठी पहल, पढ़ाई ही नही नियमित पोषाहार भी करा रहे है मर्ज किए स्कूल के विद्यार्थियों को

pawan sharma

Publish: Jul, 16 2017 07:04:00 (IST)

Tonk, Rajasthan, India
गांव के युवाओं की अनूठी पहल, पढ़ाई ही नही नियमित पोषाहार भी करा रहे है मर्ज किए स्कूल के विद्यार्थियों को

विद्यालय को मर्ज करने के बावजूद गांव के युवा न केवल विद्यार्थियों को पढ़ा रहे है। बल्कि उन्हें नियमित पोषाहार भी उपलब्ध करा रहे हैं।

टोंक. वजीरपुरा गांव के राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय को मर्ज करने के बावजूद गांव के युवा न केवल विद्यार्थियों को पढ़ा रहे है।  बल्कि उन्हें नियमित पोषाहार भी  उपलब्ध करा रहे हैं। सुरेश चौधरी, अनिल चौधरी, रामप्रसाद, बुद्धिप्रकाश रमेश व रामजीलाल बैरवा आदि गांव के युवकों ने सुबह बारी-बारी से विद्यार्थियों की कक्षाएं ली। इसके बाद उन्हें मध्यान्तर में पोषाहार भी खिलाया।


 ग्रामीणों का कहना है कि विभाग ने नामांकन की स्थिति को देखते हुए विद्यालय को दूसरे विद्यालय में मर्ज कर दिया। जबकि अब तो अभिभावकों ने विद्यार्थियों की सख्या भी 60 से अधिक कर दी है। उल्लेखनीय है कि वजीरपुरा में कम नामांकन होने से शिक्षा विभाग ने पिछले दिनों मर्ज कर दिया। इसके चलते दर्जनों विद्यार्थियों के सामने शिक्षा का संकट खड़ा हो गया।


 सक्षम परिवारों ने तो बच्चों के निजी स्कूलों में दाखिले करा दिए, लेकिन निर्धन परिवारों के सामने परेशानी खड़ी हो गई। छोटी कक्षाओं के बच्चों को अभिभावक दूरस्थ स्कूल में भेजने से कतरा रहे हैं। स्कूल फिर से शुरू करने को लेकर ग्रामीणों ने जिला प्रशासन, शिक्षा विभाग से लेकर जनप्रतिनिधियों तक से गुहार की, लेकिन सुनवाई नहीं हुई। ऐसे में विद्यार्थियों को पढ़ाने के लिए ग्रामीण व युवा पहल कर रहे हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned