चोरी की आरोपित महिला से मांगी रिश्वत, ना-नुकर करने पर दी ऐसी धमकी कि मजबूर महिला ने उठा लिया ये कदम

madhulika singh

Publish: Jun, 10 2017 09:10:00 (IST)

Udaipur, Rajasthan, India
चोरी की आरोपित महिला से मांगी रिश्वत, ना-नुकर करने पर दी ऐसी धमकी कि मजबूर महिला ने उठा लिया ये कदम

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने चोरी के मामले में गिरफ्तार महिला का अवैध रूप से जब्त स्कूटर छोडऩे के एवज में 30 हजार रुपए की रिश्वत लेते एक दलाल को गिरफ्तार किया। दलाल ने यह राशि प्रतापनगर थाने के सब इंस्पेक्टर जगदीशचन्द्र सेन के कहने पर ली थी।

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने चोरी के मामले में गिरफ्तार महिला का अवैध रूप से जब्त स्कूटर छोडऩे के एवज में 30 हजार रुपए  की रिश्वत लेते एक दलाल को गिरफ्तार किया। दलाल ने यह राशि प्रतापनगर थाने के सब इंस्पेक्टर जगदीशचन्द्र सेन के कहने पर ली थी। ब्यूरो की टीम उसे पकडऩे थाने पहुंची, उससे पहले ही भनक लगने पर एसआई मौके से भाग गया। टीम ने थाने में उसके कमरे को सील किया है। 

एएसपी राजेश भारद्वाज ने बताया कि न्यू आरटीओ कार्यालय गांधीनगर निवासी लक्ष्मी पत्नी संदीप परिहार को गत दिनों प्रतापनगर थाना पुलिस ने चोरी के मामले में गिरफ्तार किया था। मामले में अनुसंधान अधिकारी एसआई जगदीशचन्द्र सेन था। एसआई ने लक्ष्मी के एक्टिवा स्कूटर को भी अवैध रूप से जब्त करते हुए थाने में रखवा दिया। 



READ MORE: किसान आंदोलन की लहर पहुंची उदयपुर में, महापंचायत के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा गांव से दूध और अनाज को नहीं जाने देंगे बाहर



लक्ष्मी जब जमानत पर छूटकर थाने में स्कूटर लेने पहुंची तो एसआई ने उसे धमकाया। उसने कहा कि स्कूटर तो दूर की बात मामले में वह अभी तेरे पति को भी फंसाऊंगा, वो भी चोरी में बराबर भागीदार था। लक्ष्मी ने गुहार की तो उसने कहा  स्कूटर को छोडऩे व पति को बचाने के एवज में 50 हजार रुपए लगेंगे। 

लक्ष्मी ने इतनी राशि नहीं होने पर पर एसआई ने प्रतापनगर चौराहे पर दलाल प्रतापनगर पोस्ट ऑफिस के पीछे रहने वाले सलीम पुत्र शफी मोहम्मद से मिलने के लिए कहा। सलीम ने बातचीत कर लक्ष्मी 30 हजार रुपए देने रजामंद हो गई। राशि देने से पहले उसने एसीबी को शिकायत कर दी। सत्यापन पुष्टि होने पर सीआई हरिशचन्द्र सिंह, मुकेश सोनी मय टीम आरोपित सलीम को गांधीनगर से गिरफ्तार किया। टीम ने एसआई की सलीम से वार्ता करवाई तो उसने प्रतापनगर चौराहे पर बुलाया, टीम वहां पहुंची तो भनक लगने से एसआई भाग गया। 



सहेली के घर से चुराए थे जेवर 

पुलिस ने गत दिनों लक्ष्मी को  उसकी सहेली के मकान से करीब पांच लाख रुपए के सोने-चांदी के जेवर व 85 हजार रुपए चुराने के मामले में गिरफ्तार किया था। लक्ष्मी पर आरोप था कि वह अपने सहेली  टीना पुत्री प्रकाश सालवी के मकान से   सोने की दो चेन, दो मंगलसूत्र, रकड़ी, बोर, कान के टॉप्स, झेले, लटकन व लोंग व चांदी के पायजेब चुरा ले गई थी। उसने यह जेवर वरुण मॉल में स्थित  हितेश ज्वैलर्स के यहां डेढ़ लाख में बेच दिए जिसे पुलिस ने बरामद किया था।  




पूर्व में भी ले लिए 40 हजार रुपए

लक्ष्मी ने ब्यूरो को बताया कि एसआई जगदीशचन्द्र ने पूर्व में सलीम के माध्यम से ही उससे 40 हजार रुपए ले लिए थे। उसने यह राशि थाने में रखने के दौरान किसी तरह की मारपीट नहीं करने व जल्द से जल्द कोर्ट में पेश करने के एवज में दी थी। एसआई की फरारी के बाद ब्यूरो ने थाने में अवैध रूप से रखे एक्टिवा को जब्त किया तथा उस पकडऩे के लिए  पैतृक आवास काकरवा भूपालसागर में भी एक टीम रवाना की है। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned