हार्दिक पटेल बोले, सरकार का 'लेसन' पूरा नहीं, पटेलों से सरकार की वार्ता, मांगा समय

madhulika singh

Publish: Dec, 02 2016 02:01:00 (IST)

Udaipur, Rajasthan, India
हार्दिक पटेल बोले, सरकार का 'लेसन' पूरा नहीं,  पटेलों से सरकार की वार्ता, मांगा समय

हार्दिक पटेल ने उदयपुर में बैठकर किया नेतृत्व...

गुजरात में 15 माह से चल रहे पटेल-पाटीदार आरक्षण आंदोलन मामले में गुजरात सरकार के बुलावे पर गुरुवार को 11 सदस्यीय दल गांधीनगर स्थित राजभवन पहुंचा। यहां सदस्यों ने उप मुख्यमंत्री नितिन भाई पटेल व गृहमंत्री प्रदीप जडेजा से मुलाकात की। करीब तीन घंटे चली वार्ता में पटेलों की ओर से रखे मुद्दों पर मंत्रियों ने कोई जवाब नहीं देकर सोमवार तक का समय मांगा। 


सुबह करीब 11 बजे दिनेश बामणिया, ललित वसोया, मनोज पनारा, कीर्तन पटेल, दिनेश बाबरिया, किरीट पटेल, वरुण पटेल, उदय पटेल, अनिल पटेल, उमेश पटेल, रवि पटेल राजभवन पहुंचे। वहीं प्रदेशाध्यक्ष हिम्मतसिंह गुर्जर समर्थकों के साथ बाहर मौजूद रहे। तीन घंटे तक वार्ता में किसी तरह का निर्णय हुआ। वार्ता के पश्चात उदयपुर में मौजूद संयोजक हार्दिक पटेल ने इसे सरकार की ओर से दी गई लॉलीपॉप करार दिया। हार्दिक ने उदयपुर में बैठकर जयंत पटेल, जिलाध्यक्ष गेहरीलाल डांगी व अन्य लोगों के साथ  वार्ता पर पूरी नजर रखी। उन्होंने कार्यकर्ता से पूरा फीडबैक भी लिया। पाटीदार आरक्षण आंदोलन समिति के संयोजक हार्दिक पटेल ने बैठक के बाद कहा कि सरकार ने अपना लेसन (पाठ) पूरा नहीं किया। आरक्षण मामले में बैठक में सरकार की ओर से सिर्फ समय बिताने और समाज को गुमराह करने की कोशिश की जाती रही। तीन घंटे तक चली चर्चा मेंं ऐसा लगा कि सरकार पाटीदार समाज के विरुद्ध ही है। गुजरात सरकार स्वतंत्र नहीं है। दिल्ली से निर्णय लिया जाता है। गुजरात सरकार के पास केवल निर्दोष युवाओं को जेल में डालने तक का अधिकार है। 


hardik-patel-in-udaipur-11-member-team-created-2384798.html">

READ MORE: हार्दिक पटेल से मिलने पहुंचे पाटीदार आंदोलन से जुड़े 200 कार्यकर्ता, सरकार से वार्ता के लिए बनाई 11 सदस्यीय टीम



लाल हुए लालजी...

पाटीदार आरक्षण आंदोलन से जुड़े मुद्दे को लेकर मंत्रणा को लेकर राज्य सरकार का सिर्फ पाटीदार अनामत आंदोलन समिति (पास) को आमंत्रण देना कूटनीति का हिस्सा है। 'पास' के साथ-साथ पाटीदार आंदोलन से जुड़े दूसरे धड़े सरदार पटेल ग्रुप (एसपीजी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालजी पटेल ने राज्य सरकार पर यह आरोप लगाए। पटेल के मुताबिक 'एसपीजी' को नहीं बुलाकर सिर्फ पास को आमंत्रण देना सरकार का बांटो और राज करो का अंग है। 


READ MORE: हार्दिक पटेल को हरिद्वार जाने की मिली अनुमति, अहमदाबाद हाईकोर्ट ने कहा, एक दिन पहले बताओ-15 दिन में लौट आओ


पाटीदार समाज का आंदोलन करीब डेढ़ वर्ष से चल रहा है, लेकिन कई महीनों के बाद सरकार ने पास के 11 सदस्यों को बातचीत के लिए बुलाया है। एसपीजी ने पास के साथ कदम में कदम मिलाकर पाटीदार आंदोलन का समर्थन किया था। हार्दिक पटेल को जेल से रिहा करने में जेल भरो आंदोलन किया गया था, लेकिन इसके बावजूद एसपीजी को गांधीनगर नहीं बुलाया गया। उन्होंने कहा कि सरकार पाटीदार समाज की मांग का संतोषजनक समाधान नहीं करेगी तब तक आंदोलन जारी रहेगा।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned