हाई-वे लूट में 7 गिरफ्तार, 182 किग्रा चांदी और बरामद, डेढ़ किग्रा सोने का राज नहीं खुला

Udaipur, Rajasthan, India
हाई-वे लूट में 7 गिरफ्तार, 182 किग्रा चांदी और बरामद, डेढ़ किग्रा सोने का राज नहीं खुला

उदयपुर-अहमदाबाद मार्ग पर टीडी में निजी फर्म के कर्मचारियों से करीब ढाई करोड़ रुपए के सोने-चांदी के जेवरात लूट के मामले में मुख्य आरोपित परमदा ग्राम पंचायत के सरपंच पति हीरालाल गुर्जर की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने षड़्यंत्रकर्ता राजकोट (गुजरात) के पिन्टू सहित सात जनों को और गिरफ्तार कर लिया।

उदयपुर-अहमदाबाद मार्ग पर टीडी में निजी फर्म के कर्मचारियों से करीब ढाई करोड़ रुपए के सोने-चांदी के जेवरात लूट के मामले में मुख्य आरोपित परमदा ग्राम पंचायत के सरपंच पति हीरालाल गुर्जर की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने षड़्यंत्रकर्ता राजकोट (गुजरात) के पिन्टू सहित सात जनों को और गिरफ्तार कर लिया। आरोपितों से पुलिस ने 182 किलो ग्राम चांदी और बरामद की लेकिन अब तक डेढ़ किलो ग्राम सोने नहीं मिल पाया। पिन्टू राजकोट के ही फरार साथी महेन्द्र के पास सोना होना बताकर गुमराह कर रहा है। टीडी थाना पुलिस अभी पूछताछ में जुटी है। 



READ MORE : गुजरात में तीन महिने कैद में रहने के बाद भाग कर आए उदयपुर के इस लाल ने खोला ऐसा राज, पुलिस आई हरकत में



पुलिस अधीक्षक राजेन्द्रप्रसाद गोयल ने बताया कि मामले में पुलिस ने राजकोट निवासी पिन्टू उर्फ निर्मलसिंह झाला पुत्र गज्जू भा, मांडुथल घासा निवासी विजय पुत्र वक्तावर गुर्जर, वाजमिया मावली निवासी सुखलाल उर्फ सुखी पुत्र वेणीराम गुर्जर, करमाल कुराबड़ निवासी भगवती पुत्र भीमा मीणा, परमदा कुराबड़ निवासी नानालाल पुत्र भंवर गुर्जर व भैंकड़ा कुराबड़ निवासी ऊंकार पुत्र कालू मीणा को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 182 किलो ग्राम चांदी व वारदात में प्रयुक्त कार, स्कार्पियो के अलावा लूटी गई व्यापारियों की गाड़ी बरामद की। गौरतलब है कि पूर्व में पुलिस भैंकड़ा (कुराबड़) निवासी हीरा पुत्र नाथू गुर्जर, खेमली निवासी राजू पुत्र कन्नीराम खटीक, रामज (कुराबड़) निवासी लालू पुत्र भंवरू रावत व छोटी खेड़ी मावली निवासी पूरण पुत्र गोवर्धन गुर्जर को गिरफ्तार किया गया था। सभी आरोपितों से अब तक पुलिस लूटी गई 470 किलो ग्राम में से 412 किलो ग्राम चांदी बरामद कर चुकी है। 68 किलो ग्राम चांदी व डेढ़ किलो ग्राम सोना अभी बरामद होना बाकी है। मामले में राजकोट निवासी महेन्द्र सहित कुछ और आरोपी फरार है।  



READ MORE : उदयपुर रोडवेज में हो रहे ऐसे घोटाले, ना कमाई का पता ना खर्च का



एएसपी बृजेश सोनी बताया कि आरोपित हीरालाल गुर्जर के साथ ही राजकोट निवासी महेन्द्र प्रजापत व पिन्टू उर्फ निर्मलसिंह को पूर्व में जानकारी दी कि परिवादी सोमदत्त कार से आगरा से राजकोट चांदी व सोने के परिवहन करता है। पिन्टू को कार व उसमें बने चैम्बर के बारे में भी पता था। महेन्द्र व पिन्टू ने ही  हीरालाल के स्थानीय साथियों के साथ मिलकर डकैती की योजना बनाई। योजना को अंजाम देने के लिए घटना के 15-20 दिन पूर्व भी  जेवर वाली कार की रैकी कर पीछा किया था लेकिन वे कार की स्पीड ज्यादा होने पर सफल नहीं हो पाए। बाद में उन्होंने फिर से फिल्मी स्टाइल में योजना बनाई। 23 जून को पडुणा टोल नाके से आगे गाड़ी को रोककर लूटपाट कर दी। 


आरोपितों ने खेत में बांटा सोना व चांदी 


आरोपित हीरालाल लूटी हुई कार को शहर से होता हुआ करमाल स्थित भगवतीलाल उर्फ भग्गा रावत के घर ले गए। भग्गा का घर गांव में एकांत में होकर सुनसान जगह पर था। पीछे वहां अन्य आरोपित भी एक अन्य कार व स्कार्पियो से पहुंच गए। लूटी गई कार को आरोपितों ने तिरपाल से ढका। इसके बाद कार में बने विशेष चेम्बर से चांदी व सोने के जेवरातों के पैकेट निकालकर  कट्टों में भरे। चांदी जेवरातों को कार से रखकर हीरालाल गुर्जर के भैंकड़ा स्थित पुराने मकान पर ले गए जबकि सोने के जेवर पिन्टू अपने कपड़ों में छिपाकर ले गया। पुलिस की धरपकड़ पर सभी अलग-अलग जगह भाग निकले।


सरपंच पति ने जीजा व अन्य को बांटी चांदी 


हीरालाल ने चांदी के जेवर के कुछ कट्टों में से अपने जीजा परमदा निवासी नानालाल गुर्जर, भैंकड़ा निवासी ऊंकार मीणा व भगवतीलाल उर्फ भग्गा रावत को दी। इसके अलावा चांदी का एक कट्टा सोमपुर निकुंभ निवासी भैरूलाल गुर्जर बेचने के लिए उसके घर ले जाकर रखा। उपाधीक्षक ओम कुमार के नेतृत्व में टीडी थानाधिकारी जितेन्द्र ङ्क्षसह, पुष्पेन्द्र सिंह मय टीम ने अलग-अलग जगह दबिश देकर आरोपितों के कब्जे से लूटी गई चांदी के पैकेट बरामद किए। पुलिस ने पिन्टू को सोना  बरामदगी के लिए रिमांड लिया है।  


लूटी गई कार को जलाने की थी योजना 


लूटी गई कार से जेवर निकालने के बाद हीरालाल ने उसे विजय गुर्जर व सुखलाल को देते हुए उसे चारा व पेट्रोल डालकर जलाने के लिए कहा लेकिन दोनों आरोपित हिम्मत नहीं कर पाए। दोनों आरोपितों ने कार को प्रतापगढ़ स्थित धोलापानी में जंगल में ले जाकर छिपा दिया। पुलिस ने कार को धोलापानी से बरामद किया। वारदात में प्रयुक्त स्कार्पियो निकुंभ से भैरूलाल के यहां से बरामद की। जांच में वह महाराष्ट्र से चोरी करना सामने आई है। पुलिस अभी उसके मालिक का पता लगाने में जुटी है जबकि एक अन्य कार को पुलिस ने हीरालाल के पास से बरामद की।


यह था मामला


गत 24 जून को टीड़ी थाना क्षेत्र में तीन वाहनों में सवार आठ से दस लुटेरे हसनपुरा लोहामंडी उत्तरप्रदेश निवासी सोमदत्त उर्फ  श्यामू पुत्र भरोसी लाल कुशवाह, उसके पुत्र योगेश व साढू राकेश वर्मा पर मिर्च पाउडर डाल एवं गन दिखाकर उनकी कार लूट ले गए थे। कार में 470 किलो ग्राम चांदी व करीब डेढ़ किलो ग्राम सोना था। यह व्यापारी पिछले 12 वर्षों से इसी तरह माल को लाते-ले जाते रहा है। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned