उदयपुर में पकड़ा गया चित्तौडग़ढ़ का इनामी आरोपित, गुजरात भागते हुए पोखर को एटीएस टीम ने यूं धर दबोचा

madhulika singh

Publish: Jun, 17 2017 11:42:00 (IST)

Udaipur, Rajasthan, India
उदयपुर में पकड़ा गया  चित्तौडग़ढ़ का इनामी आरोपित, गुजरात भागते हुए पोखर को एटीएस टीम ने यूं धर दबोचा

उदयपुर की एटीएस टीम ने चित्तौडग़ढ़ के इनामी अपराधी चिकारड़ा चित्तौडग़ढ़ निवासी पोखर पुत्र मिट्ठूलाल खटीक को एक मकान से गिरफ्तार किया। पोखर के विरुद्ध डोडा तस्करी के अलावा लूट, डकैती, अपहरण, बलात्कार व सरकारी पेट्रोलियम पाइप लाइन से तेल चोरी करने के विभिन्न थानों में प्रकरण दर्ज हैं।

उदयपुर की एटीएस टीम ने चित्तौडग़ढ़ के इनामी अपराधी चिकारड़ा चित्तौडग़ढ़ निवासी पोखर पुत्र मिट्ठूलाल खटीक को एक मकान से गिरफ्तार किया। पोखर के विरुद्ध डोडा तस्करी के अलावा लूट, डकैती, अपहरण, बलात्कार व सरकारी पेट्रोलियम पाइप लाइन से तेल चोरी करने के विभिन्न थानों में प्रकरण दर्ज हैं। बाड़मेर के बालोतरा के एनडीपीएस प्रकरण में भी वांछित होकर फरार चल रहा है। चित्तौडग़ढ़ पुलिस द्वारा पोखर खटीक की गिरफ्तारी पर पांच हजार का इनाम घोषित है। 


गुजरात भागने की फिराक में था एटीएस के पास विगत कुछ दिनों में पोखर खटीक के बारे में सूचना थी, एटीएस यूनिट के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रानू शर्मा के निर्देशन में उपनिरीक्षक गोपाल रामचंदानी, हेडकांस्टेबल मोजेन्द्र सिंह, कांस्टेबल तेजेन्द्रसिंह, महेन्द्र, नवीन गौड़, ललित कुमार व अरुण कुमार की टीम ने तलाशी की तो आरोपित के उदयपुर के गांधीनगर, आरटीओ कार्यालय, के पास सुखेर रोड में एक मकान में होने की सूचना मिली। टीम ने वहां दबिश दी तो आरोपित वहां पर अपनी स्कार्पियो से गुजरात भागने की फिराक में था। टीम ने उसे गिरफ्तार कर मंगलवाड़ थानापुलिस के सुपुर्द किया। आरोपित के पास एटीएस टीम को तीन मोबाइल तथा ५६०० रुपए नकद मिले। 



READ MORE: जीएसटी का मतलब नहीं चलेगी कोई बेईमानी : कार्यशाला में विशेषज्ञ बेकाक बोले



इतने अपराधों में लिप्त रहा आरोपित - १ नवम्बर २००५ को गोदाम पर अवैध सोलवेंट का संग्रहण किया जिसमें विस्फोट होने से आसपास के मकान नष्ट हो गए। - १ मार्च २००६ को निम्बाहेड़ा थानापुलिस ने आरोपित के गोदाम से सोलवेंट के ड्रम पकड़े। - २५ जनवरी २००७ को एक युवती का अपहरण कर बंधक बनाकर बेच दिया जिस पर निकुंभ थाने में मामला दर्ज करवाया। - २८ दिसम्बर २००९ को गैंग के साथ गंगरार क्षेत्र व १८ दिसम्बर २००९ को चंदेरिया क्षेत्र से सरकारी पाइप लाइन से तेल चोरी किया। - ३१ मई २०१० को पुलिस थाना सिरोही में ७००.५० किलोग्राम डोडा चूरा बरामद किया गया। 



READ MORE: वल्लभनगर के किसानो की ये है अजब कहानी, 700-800 के बीज से बना रहे हजारों का मुनाफा


१८ जुलाई २०१३ चित्तौडग़ढ़ के सदर थानाक्षेत्र में परमिटशुदा डोडा चूरा का ट्रक अपनी गैंग के साथ चालक व खलासी को बंधक बनाकर लूट लिया। - २ जुलाई २०१३ को सदर क्षेत्र में अपहरण कर लूट को अंजाम दिया। - २४ जुलाई २०१६ को किशनगढ़ अजमेर में ६०१ किलोग्राम डोडा चूरा परिवहन करते गिरफ्तार किया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned