यूपी सीएम को लेकर गर्माई बीजेपी की अंदरूनी सियासत, सड़क पर उतरे मोर्य-योगीनाथ के समर्थक

Lucknow, Uttar Pradesh, India
यूपी सीएम को लेकर गर्माई बीजेपी की अंदरूनी सियासत, सड़क पर उतरे मोर्य-योगीनाथ के समर्थक

सीएम की दौड़ में चल रहे केशव प्रसाद मोर्य और योगी आदित्यनाथ के समर्थकों ने अपने नेता को सीएम बनाने जाने की मांग की। इस मांग को लेकर इन दोनों नेताओं के समर्थकों ने प्रदर्शन किया।

उत्तर प्रदेश का नया मुख्यमंत्री कौन होगा, इसे लेकर औपचारिक ऐलान आज हो जाएगा। लेकिन इस काउंटडाउन के बीच पार्टी की अंदरूनी राजनीति गरमाई हुई है।  अपने पसंदीदा नेता को सीएम बनाये जाने की मांग अब सडकों तक उत्तर आई है।  



सीएम के नाम को लेकर लगने वाली मुहर से ठीक पहले यूपी की सडकों पर कई तरह के नज़ारे देखे गए। खासतौर से सीएम की दौड़ में चल रहे केशव प्रसाद मोर्य और योगी आदित्यनाथ के समर्थकों ने अपने नेता को सीएम बनाने जाने की मांग की।  इस मांग को लेकर इन दोनों नेताओं के समर्थकों ने प्रदर्शन किया।  



उधर, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की रेस में सबसे आगे चल रहे रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने काशी के कोतवाल कहे जाने वाले भैरवनाथ और बाबा विश्वनाथ के आज दर्शन किए। 





भारतीय जनता पार्टी के नव निर्वाचित विधायकों की बैठक शुरू होने के करीब 8 घंटा पहले वह वाराणसी के प्रसिद्ध बाबा विश्वनाथ के दरबार में पहुंचे, मत्था टेका और पूजा अर्चना की। इससे पहले उन्होंने भैरवनाथ जी के दर्शन किए।   



काशी हिन्दू विश्वविद्यालय (बीएचयू) से सिविल इंजिनियरिंग में एमटेक सिन्हा का इन दोनों मन्दरों के प्रति विशेष आस्था है। अपनी पढाई के दौरान भी वह इन मन्दिरों में जाया करते थे। बीएचयू छात्रसंघ के अध्यक्ष रह चुके सिन्हा के एक साथी रमेश सिंह ने बताया कि पढाई के दौरान भी अच्छा काम शुरू करने से पहले सिन्हा बाबा विश्वनाथ और भैरवनाथ के दर्शन करते थे। 


पढाई में अव्वल और सादगी पसन्द सिन्हा को वाराणसी दौरे के दौरान अति विशिष्ट व्यक्ति का प्रोटोकाल दिया गया। उनका अपने गाजीपुर स्थित पैतृक कुल देवता के भी दर्शन करने का कार्यक्रम है। 



भाजपा प्रदेश मुख्ययालय के ठीक बगल स्थित लोकभवन में पार्टी के नव निर्वाचित विधायकों की बैठक में विधायक दल का नेता चुना जाना है। केन्द्रीय पर्यवेक्षक के रूप में पार्टी महासचिव और राज्यसभा सदस्य भूपेन्द्र यादव तथा केन्द्रीय मंत्री एम वेंकैया नायडू यहां पहुंच गए हैं। 



मुख्यमंत्री और उनके मंत्रिमण्डल को रविवार दोपहर कांशीराम स्थित उपवन में शपथ दिलायी जायेगी। उपवन के साज-सज्जा और सफाई का काम तेजी से चल रहा है। 



शपथ ग्रहण समारोह मेंं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भाजपा अध्यक्ष अमित शाह समेत कई केन्द्रीय मंत्री और भाजपा शासित प्रदेश के मुख्यमंत्रियों तथा कई वरिष्ठ नेता आ रहे हैं। समारोह में सूबे के कार्यवाह मुख्यमंत्री और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के भी आने की संभावना है। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned