अमेजन के फाउंडर जेफ ने पूछा, कहां दान करूं अरबों की दौलत, मिले एेसे जवाब

Abhishek Pareek

Publish: Jun, 19 2017 07:46:00 (IST)

World
अमेजन के फाउंडर जेफ ने पूछा, कहां दान करूं अरबों की दौलत, मिले एेसे जवाब

अमेजन के फाउंडर और दुनिया के दूसरे सबसे अमीर आदमी जेफ बेजोस ने लोगों से ऐसा सवाल किया है कि उन्हें सैकड़ों जवाब मिले। उन्होंने अपने ट्वीटर वॉल से लोगों से पूछा कि मैं अपनी संपत्ति को कैसे डोनेट करूं।

ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट अमेजन के फाउंडर और दुनिया के दूसरे सबसे अमीर आदमी जेफ बेजोस ने लोगों से ऐसा सवाल किया है कि उन्हें सैकड़ों जवाब मिले। उन्होंने अपने ट्वीटर वॉल से लोगों से पूछा कि मैं अपनी संपत्ति को कैसे डोनेट करूं। जेफ बेजोस ने ट्वीट अपने ट्विटर वॉल पर लिखा कि मैं अभी लोगों की मदद करने पर ध्यान देना चाहता हूं, ऐसी मदद जिसकी जरूरत तुरंत और असर गहरा हो। जेफ बेजोस ने आगे लिखा, कि अगर आपके पास कोई आइडिया है तो इस ट्वीट के रिप्लाई कर अपना आइडिया मुझसे शेयर करें। 




30000 जवाब 

24 घंटे के भीतर ही इसके जवाब में लोगों ने 30 हजार से ज्यादा ट्वीट किए। कई लोगों  ने उन्हें लाइब्रेरी पर पैसे खर्च करने को कहा तो कई ने उन्हें अमरीका की एलजीबीटीक्यू क युनिटी की भी हेल्प करने का सुझाव दिया। कुछ लोगों ने उन्हें हेल्थ सेक्टर में भी काम करने का सुझाव दिया। 




अपनी संस्था के लिए मांगा

जेफ से दान की रकम लेने के लिए कई लोगों ने अपनी कंपनी या संस्था के लिए ढेर सारे रीट्वीट किए। किसी ने कहा कि मैं दृष्टिहीनों के लिए स्कूल चलाता हूं, तो किसी ने कहा कि मैं अपने मोहल्ले के बदमाश बच्चों को काम देना चाहता हूं। 




महिलाओं के लिए आवाजें 

कई महिलाओं ने सलाह दी कि वे महिला सशक्तिकरण के लिए संपत्ति लगाए। वे बच्चा पैदा करने अधिकार, उनकी सेहत, गर्भनिरोधक प्रोजेक्ट में पैसा लगाएं। यौन शिक्षा पर जोर देते हुए  लिखा कि इससे  महिलाओं के प्रति होने वाले यौन अपराध कम होंगे। 




यह मिले जवाब 

-  ऐसा कीजिए लाइब्रेरी खुलवा दीजिए, क्योंकि जब शिक्षा आती है तो बहुत सारी समस्याओं का हल हो जाता है। हम आपकी मदद के लिए आभारी रहेंगे। 

- 40 प्रतिशत युवा बेघर हैं। आप एलजीबीटी समुदाय से आते हैं। तो उनके लिए घर बना दीजिए। कई युवा बेघर होते हैं तनाव में हर साल जान दे रहे हैं। 

- क्या आप मुझे सर्जरी के लिए कुछ धनराशि मुहैया करा सकते हैं।

- अमरीका में अभी भी अच्छी शिक्षा बड़ा मुद्दा है। क्वालिटी एजुकेशन की कमी के कारण कई लोग अच्छी नौकरियां नहीं पा रहे हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned