ड्रैगन की फिर चेतावनी, कहा- चीन के खिलाफ भारत दलाई लामा का ना करें इस्तेमाल

World
ड्रैगन की फिर चेतावनी, कहा- चीन के खिलाफ भारत दलाई लामा का ना करें इस्तेमाल

लू ने कहा कि हम भारत से इस मामले में अपील करते हैं कि वह तिब्बत संबंधी मुद्दों पर अपनी प्रतिबद्धता का पालन करे। और सीमा विवाद को लेकर एक बेहतर माहौल तैयार करे।

चीन ने एक बार फिर हालिया भारत दौरे पर दलाई लामा के अरुणाचल प्रदेश की यात्रा पर आपत्ति जताते हुए कहा है कि इसके कारण भारत और चीन के बीच के संबंधों में नकारात्कम असर पड़ेगा। साथ ही कहा कि भारत को चीन के हितों को कमजोर करने के खिलाफ तिब्बती धर्मगुरु दलाई लामा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।  



चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लू कांग ने कहा कि दलाई लामा की अरुणाचल दौरे से भारत और बीजिंग के संबंधों खटास आई है। साथ ही कहा कि भारत को इस मामले पर अपनी प्रतिबद्धता का पालन करते हुए चीन के हितों को नुकासान पहुंचाने के लिए धर्मगुरु दलाई लामा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। 


READ: सुब्रत रॉय को SC ने दिया बड़ा झटका: अब ऐंबी वैली के नीलामी के दिए आदेश


साथ ही लू ने कहा कि हम भारत से इस मामले में अपील करते हैं कि वह तिब्बत संबंधी मुद्दों पर अपनी प्रतिबद्धता का पालन करे और बीजिंग के हितों को कमजोर करने के लिए दलाई लामा का गलत इस्तेमाल नहीं करे। इसके अलावा कहा कि सीमा संबंधी विवाद को सुलझाने के लिए केवल यही एक रास्ता है कि हम एक बेहतर माहौल तैयार करें। 


READ: अब एयर इंडिया की फ्लाइट में बदतमीजी करना पड़ेगा महंगा, लग सकता है 15 लाख का जुर्माना


गौरतलब है कि दलाई लामा पिछले दिनों नौ दिवसीय यात्रा पर अरुणाचल प्रदेश की यात्रा करने आए थें। जहां से वह तवांग भी गए थे। जिसके बाद इसे लेकर चीन ने भारत के सामने अपनी आपत्ति दर्ज कराई थी। और उसने कहा था कि दलाई लामा विवादित क्षेत्र में एक अलगाववादी की तरह हैं। उसका कहना था कि तवांग दक्षिणी तिब्बत का एक प्रमुख हिस्सा है और भारत को दलाई लामा को यहां जाने की इजाजत नहीं देनी चाहिए।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned