नासा ने ट्विटर पर किया गुरु पूर्णिमा का जिक्र, भारतीयों ने जमकर किया रिट्वीट

Abhishek Pareek

Publish: Jul, 09 2017 08:17:00 (IST)

World
नासा ने ट्विटर पर किया गुरु पूर्णिमा का जिक्र, भारतीयों ने जमकर किया रिट्वीट

देशभर में आज गुरु पूर्णिमा मनार्इ जा रही है। गुरु पूर्णिमा का सनातनी हिंदू परंपरा में खास स्थान है।

देशभर में आज गुरु पूर्णिमा मनार्इ जा रही है। गुरु पूर्णिमा का सनातनी हिंदू परंपरा में खास स्थान है। इसकी अहमियत अब भारत में ही नहीं बल्कि दुनिया के दूसरे लोग भी समझ रहे हैं। 




नासा के ट्वीट ने बना दिया खास

हिंदू परंपरा में गुरु की खास अहमियत है। इसी महत्व को दर्शाने के लिए आषाढ़ मास की पूर्णिमा को गुरु पूर्णिमा का पर्व मनाया जाता है। इस बार की गुरु पूर्णिमा को अमरीकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने बेहद खास बना दिया है। नासा के ट्विटर हैंडल से की गई एक पोस्ट में गुरु पूर्णिमा के बारे में सबसे ऊपर जिक्र किया गया है। 




- पोस्ट में पूर्णमासी के चांद की दुनिया में अलग-अलग नामों का जिक्र 


- गुरु पूर्णिमा का नाम सबसे ऊपर है ट्वीट के सारे नामों में


- हे मून, मीड मून, राइप कॉर्न मून, बक मून और थंडर मून जैसे नाम भी बताए गए हैं। 


- पोस्ट के साथ ही चंद्रमा की एक बेहद खूबसूरत तस्वीर भी जारी की नासा ने।


- भारत और नेपाल में हर साल इसे आषाढ़ की पूर्णिमा में मनाया जाता है।


- 1000 बार रिट्वीट हुई नासा की पोस्ट और भारतीय ट्वीट को काफी पसंद कर रहे हैं।



क्या है गुरु पूर्णिमा का महत्व


माना जाता है कि गुरु पूर्णिमा को गुरु की पूजा करने से ज्ञान, शांति, भक्ति और योग शक्ति प्राप्त करने की शक्ति मिलती है। गुरु पूर्णिमा के दिन महाभारत के रचयिता कृष्ण द्वैपायन व्यास का जन्म हुआ था। मान्यता है कि उन्होंने चारों वेदों को लिपिबद्ध किया था। उनके सम्मान में गुरु पूर्णिमा को व्यास पूर्णिमा भी कहा जाता है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned