1 लाख लोगों को 'मानव कवच' बनाकर लड़ रहा है ISIS, इराकी सेना मुश्किल में फंसी

Punit Kumar

Publish: Jun, 16 2017 08:15:00 (IST)

World
1 लाख लोगों को 'मानव कवच' बनाकर लड़ रहा है ISIS, इराकी सेना मुश्किल में फंसी

आईएस मोसुल के बाहर संघर्ष में पकड़े गए लोगों को पुराने शहरों में जबरन भेज रहा है। जिस कारण इराकी सेना आईएस जेहादियों के खिलाफ बड़े और संहारक हथियारों का इस्तेमाल नहीं कर पा रही है।

इस्लामिक स्टेट आतंकी संगठन इराक और सीरिया के बहुत बड़े हिस्से पर कब्जा जमाए बैठे हैं। जिसके कारण इराकी सेना को उन्हें वहां से खदेड़ने में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। इराकी सेना ने भले ही मोसुल के बड़े इलाके से आईएस के आतंकियों को भगाकर वहां कब्जा जमाने में दोबारा सफल रही है, लेकिन वहां से आईएस के जड़ को पूरी तरह से खत्म नहीं कर पाई है। 



संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट के मुताबिक, आईएस के खूंखार लड़ाके मोसुल में इराकी नागरिकों को मानव ढाल बनाकर उनका इस्तेमाल कर रही है। और फिर से मोसुल को आईएस के कब्जे से छुड़वाने के लिए लड़ाई लड़ रही है। साल 2014 में इस्लामी स्टेट के आतंकियों ने इस शहर पर अपना कब्जा जमाकर यहां बर्बरता पूर्ण अपना शासन स्थापित किया था। 



एक आशंका के मुताबिक, फिलहाल केवल मोसुल में 1 लाख फंसे हुए हैं जहां आईएस का कब्जा है। और इन लोगों को आईएस के आतंकी मानव कवच के तौर पर इस्तेमाल कर रहे हैं। शुक्रवार को संयुक्त राष्ट्र ने इस बात की जानकारी दी है। 



आईएस मोसुल के बाहर संघर्ष में पकड़े गए लोगों को पुराने शहरों में जबरन भेज रहा है। और जब इराकी सेना उनसे लड़ाई के आगे बढ़ती है, तो वह आम लोगों के बीच छिप जाते हैं। ऐसे में अपने ही लोगों को बचाने में सुरक्षाबलों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। यही कारण है कि सेना आईएस जेहादियों के खिलाफ बड़े और संहारक हथियारों का इस्तेमाल नहीं कर पा रही है। और ना ही उनके खिलाफ युद्ध छेड़ रही है। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned