छत्तीसगढ़ में पहली बार एक साथ 2 जिले हुए कोरोना मुक्त, बीजापुर और सुकमा के 6 एक्टिव मरीज डिस्चार्ज

- बुधवार को 311 लोगों में कोरोना संक्रमण की पहचान हुई, जबकि 173 स्वस्थ हुए। वहीं, 4 और मरीजों ने इलाज के दौरान दमतोड़ दिया।

By: Bhupesh Tripathi

Published: 18 Feb 2021, 06:29 PM IST

रायपुर. बस्तर (Bastar News) से बुधवार की देर रात राहत की बड़ी खबर आई। छत्तीसगढ़ में पहली बार एक साथ 2 जिले कोरोना मुक्त हो गए। बीजापुर के 2 और सुकमा के 4 मरीजों के स्वस्थ होते ही एक्टिव मरीजों की संख्या शून्य हो गई। इन दोनों जिलों में बीते कई दिनों से एक भी कोरोना संक्रमित मरीज नहीं मिल रहे थे। यह स्थिति 17 फरवरी 2021 की है। यहां यह भी स्पष्ट करना जरूरी है कि इन दोनों जिलों में सैंपलिंग जारी है। अगर, रिपोर्ट पॉजिटिव आती हैं तो एक्टिव मरीजों की गिनती एक से शुरू होगी।

बता दें बस्तर संभाग में बहुत देरी से संक्रमण पहुंचा था। वहां दूसरे राज्यों से लौटे मजदूर ही संक्रमित पाए गए। आवाजाही कम होने की वजह से भी जिला प्रशासन संक्रमण पर नियंत्रण करने में सफल रहा। बीजापुर में 4116 मरीज रिपोर्ट हुए और 28 जानें गईं, जबकि सुकमा में 4014 मरीज मिले 10 जानें गईं। गौरतलब है कि प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या 3009 है। 22 सितंबर 2020, वह दिन था जब प्रदेश में 38912 एक्टिव मरीज थे।

रायपुर- 118- 54741
छत्तीसगढ़- 311- 309623

राज्य में एक्टिव मरीजों की स्थिति-

सबसे कम- नारायणपुर 3, दंतेवाड़ा 3, गौरेला पेंड्रा मरवाही 4, कोंडगांव 9
सबसे ज्यादा- रायपुर 903, दुर्ग 816, रायगढ़ 192, बालोद 186, बलौदाबाजार 109

नए विदेशी स्ट्रेन पर अभी अलर्ट नहीं-
दक्षिण अफ्रीका और ब्राजील से भारत आए 5 नागरिकों में स्ट्रेन मिला है। इसे लेकर फिलहाल छत्तीसगढ़ में कोई अलर्ट जारी नहीं किया गया है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि तमाम यात्रियों की अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर जांच हो रही है। अगर वे संक्रमित मिलेंगे तो उन्हें वहीं रखा जाएगा। राज्यों में नहीं भेजा जाएगा। पूर्व में इन देशों से जो भी लोग आए हैं, वे विशेष सावधानी बरतें।

311 संक्रमित मिले, 261 हुए स्वस्थ-
प्रदेश में बुधवार को 311 लोगों में कोरोना संक्रमण की पहचान हुई, जबकि 173 स्वस्थ हुए। वहीं, 4 और मरीजों ने इलाज के दौरान दमतोड़ दिया। इनमें 2 रायपुर के रहने वाले थे। अब तक इस बीमारी से 3788 जानें जा चुकी हैं।

निश्चित तौर पर जिलों में एक्टिव मरीजों का शून्य होना बड़ी बात है। पहले की तुलना में मरीजों की संख्या में कमी आई है। उम्मीद है कि धीरे-धीरे प्रदेश के कुल एक्टिव मरीजों की संख्या और भी कम होगी।

- डॉ. सुभाष पांडेय, प्रवक्ता, स्वास्थ्य विभाग

Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned