सुकमा में सड़क बनवा रहे मुंशी की तीर मारकर नक्सलियों ने की हत्या

Sukma Breaking News Today: छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले के पीएमजीएसवाय की सड़क का निर्माण कार्य देख रहे एक मुंशी की नक्सलियों ने अगवा कर तीर मारकर और गला रेतकर हत्या कर दी।

By: Ashish Gupta

Published: 16 Apr 2021, 09:17 PM IST

सुकमा. छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले के पीएमजीएसवाय (PMGSY) की सड़क का निर्माण कार्य देख रहे एक मुंशी की नक्सलियों ने अगवा कर तीर मारकर और गला रेतकर हत्या कर दी। इसके साथ ही कार्य में लगे दो वाहनों को आग लगाने की कोशिश भी की। फोर्स की सुरक्षा के बगैर सड़क निर्माण किया जा रहा था। घटना की पुष्टि सुकमा एसपी केएल ध्रुव ने की है।

सुकमा जिले के दोरनापाल एवं पोलमपल्ली के बीच गोरगुंडा गांव के पास सड़क बनाने का कम चल रहा था। इसी दौरान अचानक नक्सली आ धमके और सड़क निर्माण में लगे वाहनों को रोक दिया। उसके बाद वाहन चालकों उतारा और टिप्पर और ट्रैक्टर को आग लगा दी, हालांकि वाहन नहीं जल पाए।

यह भी पढ़ें: शादी समारोह में मचा हड़कंप जब फूटा कोरोना बम, 135 लोग हुए संक्रमित

इसके बाद नक्सली सड़क निर्माण में लगे कर्मचारी एवं वाहन चालकों को अपने साथ ले गए। कुछ देर बाद काम देख रहे भद्राचलम निवासी मुंशी भास्कर रेड्डी को तीर मार दिया और गला रेत कर हत्या कर दी। साथ ही अगवा किए दो अन्य कर्मचारियों शीनु और बंशी को सुरक्षित छोड़ दिया। अगवा करने के बाद छोड़े गए दोनों लोगों से पुलिस पूरी घटना को लेकर पूछताछ कर रही है।

बिना सुरक्षा के हो रहा था सड़क निर्माण
नक्सल प्रभावित इलाके में सड़क निर्माण का काम बिना पुलिस की सुरक्षा में करवाया जा रहा था। जिसका फायदा उठाकर नक्सलियों ने एक बड़ी घटना को अंजाम दिया। इस घटना के बाद से इलाके में दहशत का माहौल है।

यह भी पढ़ें: राजधानी में कोरोना बेकाबू: 100 से ज्यादा फ्रंटलाइन वर्कर कोरोना पॉजीटिव

सुरक्षा नहीं देने की जानकारी दे दी थी
सुकमा के एसपी केएल ध्रुव ने कहा, मुंशी की हत्या के साथ वाहनों में आग लगाने की कोशिश की गई है। दो लोगों को सुरक्षित छोड़ दिया गया है। काम के लिए सुरक्षा नहीं देने की जानकारी ठेकेदार को पहले ही दे दी गई थी। इसके बावजूद बगैर सुरक्षा काम करवाया जा रहा था।

Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned