जब हेलिकॉप्टर बना था अरुण जेटली के लिए चुनाव प्रचार में रुकावट, उठाया था यह कदम

जब हेलिकॉप्टर बना था अरुण जेटली के लिए चुनाव प्रचार में रुकावट, उठाया था यह कदम
Arun Jaitley

Abhishek Gupta | Updated: 25 Aug 2019, 03:52:55 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली 2012 में हुए विधानसभा चुनाव में लम्भुआ विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी रहे।

सुलतानपुर. भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली 2012 में हुए विधानसभा चुनाव में लम्भुआ विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी रहे। जौनपुर जिले के सिंगरामऊ राजपरिवार से तालुल्क रखने वाले जयसिंह के समर्थन में चुनाव प्रचार करने आये थे। यहां चुनाव प्रचार करने सभास्थल पर लखनऊ से हेलीकॉप्टर से आना था लेकिन, आखिरी समय पर लखनऊ में हेलीकॉप्टर में तकनीकी खराबी आ जाने के कारण अरुण जेटली सड़क मार्ग से इनोवा कार में सवार होकर सुलतानपुर में चुनाव प्रचार के लिए निकल पड़े थे।

कार से निकलने के बाद ठीक हो गया था हेलीकॉप्टर-
हेलीकॉप्टर खराब होने की सूचना मिलते ही लम्भुआ विधानसभा क्षेत्र के भाजपा उम्मीदवार जय सिंह के समर्थन में चुनाव प्रचार करने सड़क मार्ग से इनोवा कार से निकले अरुण जेटली को थोड़ी ही देर में यह सूचना मिली कि हेलीकॉप्टर की तकनीकी खराबी ठीक कर ली गई है और वे हेलीकॉप्टर से चुनावी सभा में जा सकते हैं, लेकिन इसके बाद भी भाजपा नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली इनोवा कार से ही चुनाव प्रचार करने सभा में पहुंचे थे।

arun jaitely

उड़नखटोला भी पहुंचा था सभास्थल-

भाजपा नेता के कार से सभास्थल पहुंचने की ख़बरों के बीच हेलीकॉप्टर भी सभास्थल पहुंच गया था। हेलीकॉप्टर के पहुंचने पर भीड़ अरुण जेटली को देखने उड़नखटोला की तरफ दौड़ पड़ी थी, लेकिन वह तो उसमें थे ही नहीं। इससे उन लोगों को निराश होकर लौटना पड़ा था। उधर हेलीकॉप्टर भी लखनऊ के लिए उड़ान भर चुका था।

मंच से नेताओं ने जेटली के आने की दी सूचना-

सभास्थल पर हेलीकॉप्टर के आने और उसमें अरुण जेटली के न होने से निराश जनता उठकर जाने लगी तो वहां मौजूद भाजपा नेताओं को मंच से यह घोषणा करनी पड़ी कि केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली सड़क मार्ग से थोड़ी ही देर में सभास्थल पहुंचेंगे। यह सुन लोगों के चेहरों से निराशा खत्म हुई। इस संबंध में भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता डॉ एमपी सिंह कहते हैं कि उस समय वे खुद मंच पर मौजूद थे।

लम्भुआ से कुछ दूर पर हुई थी जेटली की जनसभा-

वर्ष 2012 के विधानसभा चुनाव में पार्टी प्रत्याशी जय सिंह के समर्थन में अरुण जेटली की जनसभा लम्भुआ से कुछ दूर दुर्गापुर मार्ग पर स्थित चौकिया इन्टर कॉलेज में हुई थी। पार्टी प्रत्याशी जय सिंह की पर्सनालिटी देखकर उनकी तरफ इशारा करते हुए जेटली ने कहा था कि भाजपा प्रत्याशी के जीतने पर लम्भुआ विधायक को दूर से ही पहचाना जा सकता है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned