scriptBJP MLA Letter to CM Yogi Demanding Name change of Sultanpur | 'आंखों में खटकता है सुल्तान जैसा शब्द', भाजपा MLA ने सीएम योगी को कहा सुल्तानपुर नहीं कुशभवनपुर करें नाम | Patrika News

'आंखों में खटकता है सुल्तान जैसा शब्द', भाजपा MLA ने सीएम योगी को कहा सुल्तानपुर नहीं कुशभवनपुर करें नाम

उत्तर प्रदेश में एक और जिले का नाम बदलने की मुहिम तेज हो गई है। बीजेपी विधायक विनोद सिंह ने सुल्तानपुर का नाम बदलकर कुशभवनपुर करने की मांग की है। इसके लिए उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा है।

सुल्तानपुर

Updated: April 11, 2022 03:14:43 pm

उत्तर प्रदेश में एक और जिले का नाम बदलने की मुहिम तेज हो गई है। बीजेपी विधायक विनोद सिंह ने सुल्तानपुर का नाम बदलकर कुशभवनपुर करने की मांग की है। इसके लिए उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा है। उन्होंने कहा कि आज के प्रजातांत्रिक युग में सुल्तान जैसे शब्द आंखों में खटकते हैं। इसे बदलने के लिए कई बार जन आंदोलन हुआ। ज्ञापन दिए गए। इससे पहले लंभुआ (सुल्तानपुर) से बीजेपी विधायक देवमणि द्विवेदी ने सबसे पहले विधानसभा में यह मुद्दा उठाया था।
BJP MLA Letter to CM Yogi Demanding Name change of Sultanpur
BJP MLA Letter to CM Yogi Demanding Name change of Sultanpur
बताया सुल्तानपुर का इतिहास

विधायक ने अवगत कराया कि सुल्तानपुर जिला अयोध्या और प्रयागराज के पवित्र धामों के बीच अवस्थित है। जिले में धोपाप, मकरीकुंड, सीताकुंड, विजेथुआ जैसे महत्वपूर्ण पौराणिक स्थल स्थित है। इस तथ्य के पौराणिक साक्ष्य हैं कि हम सबके आराध्य भगवान राम के कनिष्ठ पुत्र कुश ने इस जनपद को अपनी राजधानी बनाया और इसका नामकरण कुशभवनपुर के रूप में किया था। पत्र में बताया कि खिलजी बादशाह ने अपनी संस्कृति के प्रचार प्रसार के क्रम में जिले का नाम सुल्तानपुर कर दिया।
यह भी पढ़ें

फर्रुखाबाद का नाम बदलकर पांचाल नगर करने की मांग, भाजपा सांसद ने लिखा पत्र

'आंखों में खटकता है सुल्तान जैसा शब्द', भाजपा MLA ने सीएम योगी को कहा सुल्तानपुर नहीं कुशभवनपुर करें नामसीएम योगी को पत्र लिखकर की मांग

बीजेपी विधायक ने पत्र में अवगत कराया कि हाल के विधानसभा चुनाव में 25 फरवरी को कटका में आयोजित सभा में उन्होंने भी इस मुद्दे को उठाया था। बीजेपी विधायक ने कहा कि हम सब सांस्कृतिक राष्ट्रवाद के पद के पथिक हैं। इसलिए सांस्कृतिक प्रतीकों का हमारे लिए विशेष महत्व है।
बदल जाएंगे इन जिलों के भी नाम

जिलों के नाम बदलने की मांग के बीच योगी सरकार यूपी के अन्य जिलों का नाम बदलने की तैयारी में है। इसमें सुल्तानपुर के अलावा बदायूं, फिरोजाबाद, फर्रुखाबाद अलीगढ़ और शाहजहांपुर शामिल हैं। अलीगढ़ का नाम बदलकर हरिगढ़ या आर्यगढ़ किया जा सकता है। इसी तरह बदायूं को वेद मऊ, फिरोजाबाद को चंदनगर, फर्रुखाबाद को पांचालनगर और शाहजहांपुर को शाजीपुर करने की मांग उठी है।
योगी सरकार ने बदला था सबसे पहले मुगलसराय का नाम

सत्ता संभालते ही योगी सरकार ने सबसे पहले मुगलसराय का नाम बदला था। मुगलसराय का नाम बदलकर दीनदयाल उपाध्याय कर दिया था। इसी तरह इलाहाबाद का नाम प्रयागराज और फैजाबाद का नाम अयोध्या हुआ।
यह भी पढ़ें

सबसे प्राचीन है काशी में देवी शैलपुत्री का मंदिर, नवरात्रि के पहले दिन देती हैं साक्षात दर्शन, सुबह से दर्शन के लिए उमड़ी भक्तों की भीड़

मायावती ने भी बदले नाम

मायावती ने अपने मुख्यमंत्रित्व काल में महात्मा बुद्ध और दलित महापुरुषों के नाम पर दर्जनभर जिलों के नाम बदले। गाजियाबाद का एक हिस्सा जो नोएडा कहलाता है, वह गौतमबुद्धनगर हुआ। अमेठी का नाम बदलकर छत्रपति शाहूजी महाराज कर दिया था। इसी तरह अन्य जिलों के भी नाम बदले।
अखिलेश ने बदले थे 8 जिलों के नाम

अखिलेश सरकार भी जिलों के नाम की राजनीति से बच नहीं पाई। यादव सरकार में आठ जिलों के नाम बदले गए थे। सत्ता में आते ही अखिलेश ने अमेठी का नाम बदलकर गौरीगंज कर दिया था। मायावती कार्यकाल में हापुड़ का नाम पंचशील था, उसे फिर पुराना नाम मिला। ज्योतिबाफुले नगर का नाम अमरोहा, महामाया नगर को हाथरस, कांशीराम नगर को कासगंज, रमाबाई नगर को कानपुर देहात, प्रबुद्ध नगर को शामली और भीमनगर को संभल कर दिया था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

भारत में पेट्रोल अमेरिका, चीन, पाकिस्तान और श्रीलंका से भी महंगामुस्लिम पक्षकार क्यों चाहते हैं 1991 एक्ट को लागू कराना, क्या कनेक्शन है काशी की ज्ञानवापी मस्जिद और शिवलिंग...योगी की राह पर दक्षिण के बोम्मई, इस कानून को लागू करने वाला नौवां राज्य बना कर्नाटकSri Lanka Crisis: राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे की बची कुर्सी, अविश्वास प्रस्ताव हुआ खारिज900 छक्के, IPL 2022 में रचा गया इतिहास, बल्लेबाजों ने 15वें सीजन में बनाया ऐतिहासिक रिकॉर्डIPL 2022 : 65वें मैच के बाद हुआ बड़ा उलटफेर ऑरेंज कैप पर बटलर नंबर- 1 पर कायम, पर्पल कैप में उमरान मलिक ने लगाई छलांगज्ञानवापी मामले में काशी से दिल्ली तक सुनवाई: शिवलिंग की जगह सुरक्षित की जाए, नमाज में कोई बाधा न होभाजपा के पूर्व सांसद व अजजा आयोग के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष के इस पोस्ट से मचा बवाल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.