CAA का भ्रामक प्रचार कर ध्रुवीकरण कर रहा है विपक्ष, देश से अवैध घुसपैठिया को बाहर भेजना हमारा धर्म - बीजेपी प्रवक्ता

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रेम शुक्ला ने शुक्रवार नागरिकता संशोधन कानून को लेकर फैलाई जा रही अफवाह पर प्रेस वार्ता की।

By: Abhishek Gupta

Published: 03 Jan 2020, 10:45 PM IST

सुलतानपुर. भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रेम शुक्ला ने शुक्रवार नागरिकता संशोधन कानून को लेकर फैलाई जा रही अफवाह पर प्रेस वार्ता की। उन्होंने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) नागरिकता लेने का नहीं बल्कि नारिकता देने का कानून है। कानून में किसी से भी धार्मिक भेदभाव नहीं बरता गया है। विपक्षी दल भ्रामक दुष्प्रचार कर लोगों को गुमराह करने का काम कर रहे हैं। देश से अवैध घुसपैठियों को बाहर भेजना हमारा धर्म है। उन्होंने कहा कि केरल की पीएफआई के कट्टरपंथ को मानने वाले उन्मादी तत्व को कांग्रेस आई का राजनीतिक और पाकिस्तान की आईएसआई का फाइनेंशियल संरक्षण प्राप्त है। इन लोगों ने भ्रम फैलाकर उन्माद व अराजकता फैलाने का काम किया है। उनसे किस तरह निपटना है यह राष्ट्र के रूप में सरकार का दायित्व है।

नागरिकता संशोधन कानून के बारे में राष्ट्रीय नेतृत्व द्वारा चलाए जा रहे जनजागरण अभियान के तहत शुक्रवार को राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रेम शुक्ला सुलतानपुर पहुँचे। शहर के निजी रेस्टोरेंट में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रेम शुक्ला ने कहाकि नागरिकता संशोधन कानून में कोई धार्मिक भेदभाव नहीं बरता गया है। विपक्षी दल भ्रामक दुष्प्रचार कर लोगों को गुमराह करने का काम कर रहे हैं। भाजपा नागरिकता संशोधन कानून की असलियत व जनता से रूबरू कराने के लिये जन जागरण अभियान चला रही है।

शुक्ला ने कहा कि विपक्षी दल नागरिकता संशोधन एक्ट को लेकर भ्रम फैलाकर उन्माद और उत्पात फैलाने का काम किया गया। बार-बार दुष्प्रचार हो रहा है कि एक्ट में धार्मिक भेदभाव रखा गया है।ये बिल्कुल निराधार और गलत है। कांग्रेस इसे लेकर ओछी राजनीति कर रही है।जबकि राष्ट्रपति महात्मा गांधी ने कहा था कि पाकिस्तान में सबसे बड़ी आबादी दलित अगर भारत आना चाहते है तो भारत उन्हें नागरिकता देने के लिए प्रतिबद्ध है। जवाहर लाल नेहरू ने भी कहा था कि जिन पर विभाजन लाद दिया है उनको भारत में नागरिकता मिलेगी।उनहोंने कहा कि 1950 में लियाकत समझौता में तय किया गया कि भारत अपने अल्पसंख्यकों की सुरक्षा करेंगा और कोई भेदभाव नहीं करेगा। यही गारंटी पाकिस्तान ने दी थी।लेकिन भारत अपने वायदे पर कायम रहा और पाकिस्तान नही रहा।पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों का उत्पीड़न हो रहा है।

BJP CAA
Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned