मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना कार्यक्रम को प्राथमिकता से लें- डीएम

जिलाधिकारी कलेक्ट्रेट में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के सम्बन्ध में एक बैठक को सम्बोधित कर रहे थे...

सुल्तानपुर. जिलाधिकारी विवेक ने सभी सम्बन्धित को निर्देशित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना का प्राथमिकता पर क्रियान्वयन किया जाय। उन्होंने बताया कि इस वर्ष जिले के लिए 1500 जोडे़ मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजनाका लक्ष्य आवंटित किया गया है। जिलाधिकारी कलेक्ट्रेट में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के सम्बन्ध में एक बैठक को सम्बोधित कर रहे थे।

 

जिलाधिकारी ने 90-90 जोड़ों का दिया लक्ष्य

जिलाधिकारी ने सभी ब्लाकों के लिए 90-90 जोडे़ मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना का लक्ष्य आवंटित किया है। इसी प्रकार जिला पंचायत के लिए 100 जोड़ें, नगरपालिका के लिए 50 जोडे़ तथा नगर पंचायत कादीपुर, कोइरीपुर व दोस्तपुर के लिए 30-30 जोड़े शादी का लक्ष्य आवंटित किया गया है। उन्होंने सभी सम्बन्धित को यथा शीध्र मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह हेतु जोडों का पंजीकरण कराकर अग्रिम कार्यवाही सम्पादित करें। जिलाधिकारी ने समीक्षा में पाया कि अब तक जिला पंचायत में 14, भदैंया ब्लाक में 10, दूबेपुर में 10, जयसिंहपुर में 9, कूरेभार में 10, कुडवार में 3, मोतिगरपुर में 15, पी0पी0कमैचा में 7, लम्भुआ में 4, दोस्तपुर 5 व कादीपुर में 4 जोडो़ का रजिस्ट्रेशन हुआ है।

 

ओडीएफ कार्यक्रम की भी हुई समीक्षा

बैठक में जिलाधिकारी ने लाभार्थी परख योजनाओं की भी समीक्षा की तथा सभी खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया कि उनकी व्यक्ति गत जिम्मेदारी होगी कि योजनाओं का क्रियान्वयन पूरी पारदर्शिता के साथ हो। इस अवसर पर ओडीएफ कार्यक्रम की भी समीक्षा की गयी और आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी राधेश्याम, वरिष्ठ कोषाधिकारी वरूण खरे, उप जिलाधिकारी सदर जे0पी0सिंह, लम्भुआ डा. रमेशकुमार शुक्ला, कादीपुर जयकरन, जिला सूचना अधिकारी आरबीसिंह, जिला समाज कल्याण अधिकारी, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी पन्नालाल व सम्बन्धित उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें: ग्रामीणों के लिए जब बाढ़ बनती है आफत, तो इन लोगों को मिलता है रोजी रोटी का सहारा

यह भी पढ़ें: जब श्मशान में एक साथ जली 8 चिताएं, चीखों से दहल उठा आसमां, जानें पूरा मामला

यह भी पढ़ें: सरकारी बोरों में भरा रखा था 150 क्विंटल गेहूं, पकड़ा गया

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned