पुलिसिया उत्पीडऩ के खिलाफ पूर्व मंत्री उतरेंगे सड़क पर!

shatrughan gupta

Publish: Sep, 16 2017 05:40:00 (IST) | Updated: Sep, 16 2017 05:40:01 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
पुलिसिया उत्पीडऩ के खिलाफ पूर्व मंत्री उतरेंगे सड़क पर!

जैसिंहपुर थाने की फोर्स दल बल के साथ पूर्व मंत्री के घर पहुंच गई और वहां जमकर तोडफ़ोड़ की।

सुल्तानपुर. जिले की सदर सीट से बसपा के विधायक रहे और बसपा सरकार में दर्जा प्राप्त मंत्री रहे रामरतन यादव के घर पुलिसिया कार्रवाई को पूर्व मंत्री ने सुनियोजित साजिश करार दिया है। उन्होंने इसके लिए सीधा आरोप जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन पर लगाया है। पूर्व मंत्री के घर पुलिसिया कार्रवाई के विरोध में कई अलग-अलग पार्टियों के नेता पूर्व मंत्री के साथ खड़े नजर आ रहे हैं।

प्रदेश के पूर्व मंत्री राम रतन यादव के बेटे राम विशाल जो कि प्रधान भी हैं का एक गाड़ी छोडऩे की सिफारिश भारी पड़ गई। दरअसल, नौ सितंबर की शाम को क्षेत्र के ही एक व्यक्ति की गाड़ी को जैसिंहपुर पुलिस ने पकड़ लिया था। बस इसी गाड़ी की सिफारिश लेकर पूर्व मंत्री का प्रधान बेटा थाने पहुंच गया और पुलिस से उलझ गया। बताया जाता है कि मौके पर तो किसी तरह मामला शांत हो गया, लेकिन रात होते ही जैसिंहपुर थाने की फोर्स दल बल के साथ पूर्व मंत्री के घर पहुंच गई और वहां जमकर तोडफ़ोड़ की। पूर्व मंत्री का आरोप है कि पुलिस यहीं नहीं रुकी, पुलिस ने हम सभी को फंसाने के लिए घर से अवैध शराब की बरामदगी दिखा दी। पहले दिन की कार्रवाई से पुलिस का मन नहीं भरा। दूसरे दिन यानी 10 सितंबर की रात एक बार फिर थाने की पुलिस पूर्व मंत्री के घर पहुंची, जहां पुलिस ने पूर्व मंत्री के घर के परिसर में खड़ी कई गाडिय़ों को तोड़ दिया। मंत्री का आरोप है कि घर से शराब की बरामदगी भी फर्जी दिखा दी। घर में रखे तीन लाइसेंसी असलहों को भी पुलिस अपने साथ लेकर चली गई।

सपा भी आई पूर्व मंत्री के साथ
शनिवार को पूर्व मंत्री राम रतन यादव ने प्रेस कॉन्फेंस कर जिला प्रशासन के खिलाफ आंदोलन की बात कही। इस दौरान समाजवादी पार्टी के एमएलसी समेत दर्जनों सपाई मौजूद रहे। इस दौरान सपा नेताओं ने पुलिसिया उत्पीडऩ की जमकर आलोचना की। उन्होंने कहा कि योगी सरकार में विपक्ष पर झूठे आरोप लगाकर उन्हें फंसाया जा रहा है। सपा नेताओं ने कहा कि पुलिसिया कार्रवाई के खिलाफ हम पूर्व मंत्री के साथ हैं। हम उनके आंदोलन में साथ खड़े रहेंगे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned