आस्था पर भारी पड़ रहा GST, त्योहारों का रंग हुआ फीका

जीएसटी की जो प्रणाली देश में लागू हुई है उसका असर अब त्योहारों पर भी नज़र आने लगा है।

Abhishek Gupta

September, 2606:14 PM

Lucknow, Uttar Pradesh, India

सुल्तानपुर. देश में इस समय त्योहारों का मौसम चल रहा है। नवरात्र है तो दशहरा की धूम है तो ग़मगीन माहौल में मुहर्रम की दसंवी का भी मौका है। ऐसे सभी टैक्सों को समाप्त कर जीएसटी की जो प्रणाली देश में लागू हुई है। उसका असर अब त्योहारों पर भी नज़र आने लगा है। मुहर्रम के ताज़िये अगर महंगे हो गए हैं तो दशानन भी अब भारी पड़ रहे हैं। दशहरे के मौके पर देश भर में रामलीला कमेटियां रावण का पुतला बनाती हैं और उनका वध भगवान श्रीराम दशमी के दिन करते हैं।

"पिछली बार की तुलना में महंगा हुआ रावण, कद भी हुआ कम"

'रावण हुआ महंगा' बात थोड़ी मज़ाकिया लगेगी, लेकिन ये सच है कि अबकी बार रावण बनाने की लागत में बेतहाशा वृद्धि हुई है। वजह भी है रावण के रूप को बनाने में इस्तेमाल में आने वाली चीज़े जीएसटी की वजह से महंगी हो गई हैं। जिले की रामलीला कमेटी के लोगों ने बताया कि अबकी बार रावण के पुतले की लागत 25000 रुपये आ रही है तो वही पिछले साल रावण की कीमत 20 हज़ार थी, मतलब सीधे-सीधे 5 हज़ार का खर्च एक्स्ट्रा हुआ है।

"ताज़िया भी हुआ महंगा, छोटे-छोटे ताज़िया भी महंगे दामों में बिक रहे"

इस बार ताज़ियादारों पर भी जीएसटी की मार पड़ रही है। ताजियादारी के प्रति श्रद्धा मुस्लिम के अलावा हिन्दुओं में भी होती है। और छोटी ताज़िया भी लोग घरों में मन्नत के तौर पर रखते हैं। इस बार महंगाई की वजह से छोटी ताज़िया जो 300 से 500 के आस-पास मिलती थी, वही ताज़िया 800 और 1000 के रेट पर मिल रही है। ताज़िया बनाने वाले एक कारीगर ने बताया कि जो सामान हमें 40 से 50 रुपये का मिलता था वही अब हमें 100 रुपये में खरीदना पड़ रहा है।

"दुकानों पर भी खरीद फरोख्त में आया है फर्क"

ताज़िया और रावण के स्वरूप में लगने वाली सामग्री पर जीएसटी को शामिल करने से दाम में वृद्धि हुई है, जिसका सीधा असर बिक्री पर पड़ा है। नगर के मुरारी दास गली में इन सभी में इस्तेमाल वाले सामान मिलते हैं। लेकिन बाजार मंद पड़ा हुआ है, बहरहाल त्योहारों के मद्देनजर इस बार पुरानी रौनक इस बाजार में नज़र नहीं आ रही है।

Abhishek Gupta
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned