हत्यारा दर्जी, दिन में लेता नाप और रात में मार डाले 33 ट्रक ड्राइवर, अब भूत-प्रेत और आत्मा से डरकर आया सामने

आदेश खमारा नाम का यह दर्जी एक छोटी सी दुकान में कपड़ों की सिलाई का काम करता था...

Nitin Srivastva

September, 1303:15 PM

Lucknow, Uttar Pradesh, India

सुलतानपुर. मध्यप्रदेश की भोपाल पुलिस ने एक ऐसे दर्जी को गिरफ्तार किया है जो उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र और बिहार में पिछले 8 सालों में 33 ट्रक चालकों और उनके क्लीनरों को मारकर उनकी लाशों को अलग-अलग जगहों पर ठिकाने लगाता रहा। उसने पुलिस के सामने यह सनसनीखेज खुलासा किया है कि वह ऐसा भूत-प्रेतों के डर की वजह से करता था। इस बेहद खतरनाक सीरियल किलर दर्जी को भोपाल पुलिस के एक बड़े अधिकारी ने सुल्तानपुर जिले की एक महिला पुलिस की मदद से पकड़ने का दावा किया है, हालांकि सुलतानपुर के अधिकारी ऐसी किसी गिरफ्तारी से अनभिज्ञता जता रहे हैं।

 

दर्जी ऐसे बन गया जल्लाद

खबरों के अनुसार आदेश खमारा नाम का एक दर्जी मध्य प्रदेश के भोपाल शहर में एक छोटी सी दुकान में कपड़ों की सिलाई का काम करता था। जानकारी के मुताबिक जब वह शाम को घर जाता और खाना खाकर सोने की कोशिश करता तभी उसके आंखों के सामने अजीब तरह के दृश्य दिखाई पड़ने लगते थे। उसके कबूलनामे के अनुसार रात में उसकी आंखों के सामने खौफनाक वारदातों के विचार आते रहते थे। उसको यह भी महसूस होता था कि वह किसी हथियार को धार दे रहा है और वह खुद दर्जी नहीं बल्कि एक क्रूर जल्लाद है। इसका सबसे दिलचस्प पहलू यह है कि उसने सारे राज भी भूतों की भयानक कहानी और प्रेतात्माओं के डर से ही खोले।

 

2010 से शुरू किया खूनी खेल

उसके मन में आते खौफनाक और क्रूर विचारों ने उसे दर्जी से खूनी दरिंदा बना दिया। सबसे पहले साल 2010 में उसने महाराष्ट्र के अमरावती में खूनी घटना को अंजाम दिया और फिर उसके बाद नासिक में। उसके बाद उसका सिलसिला चल पड़ा। उसने एक के बाद एक ट्रक चालकों और उनके क्लीनरों को अपना शिकार बनाया। इस तरह से उसने 33 ट्रक चालकों और उनके सहयोगियों को मौत की नींद सुलाता रहा। किसी ने सपने में भी यह नहीं सोचा होगा कि इन सिलसिलेवार मौतों का जिम्मेदार एक बेहद नरम दिल और नेक इंसान दर्जी है। खबरों के मुताबिक भोपाल पुलिस ने पिछले हफ्ते आदेश खमारा को सुल्तानपुर जिले के जंगल से एक बहादुर महिला पुलिस कर्मी के सहयोग से गिरफ्तार किया।


क्रूर खमारा ने ऐसे उगले राज

पिछले 8 सालों में 4 राज्यों में 33 ट्रक चालकों और उनके सहयोगियों की हत्या करने के बाद शव को ठिकाने लगाने वाले आदेश खमारा (50) से राज उगलवाने के लिए पुलिस को भी भूतों-प्रेतों की काल्पनिक डरावनी कहानियों का सहारा लेना पड़ा। सीरियल किलर के मामले की जांच कर रहे एक अधिकारी के अनुसार दर्जी से ट्रक लुटेरा और खूंखार हत्यारा बने खमारा से हत्याओं का राजफाश करने के लिये भूतों -प्रेतों की काल्पनिक कहानियों का सहारा लेना पड़ रहा है। वहीं इस संबंध में एसपी अनुराग वत्स ने बताया कि इस तरह की किसी गिरफ्तारी की जानकारी उन्हें नहीं है। जबकि अपर पुलिस अधीक्षक सूर्यकान्त त्रिपाठी ने कहा कि ऐसी किसी भी गिरफ्तारी या ऐसे किसी भी मामले की जानकारी उन्हें नहीं है।

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned