सुलतानपुर में दिनदहाड़े हुई हत्या में शामिल चारों हत्यारे गिरफ्तार

वारदात के पीछे संपत्ति हथियाने का मामला प्रकाश में आया है। चारों हत्या आरोपियों को पुलिस ने जेल भेज दिया।

By: Mahendra Pratap

Published: 16 Apr 2021, 10:37 AM IST

सुलतानपुर. थाना कोतवाली देहात क्षेत्र के सातनपुर गांव निवासी रईस अहमद की थाना लम्भुआ क्षेत्र में सकवा नहर के पास हुई निर्मम हत्या (Sultanpur Murder) मामले में पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार (Arrested) किया है। उनके पास से हत्या में प्रयुक्त तमंचा, कारतूस और वारदात में शामिल बुलेरो गाड़ी भी बरामद कर ली है। वारदात के पीछे संपत्ति हथियाने का मामला प्रकाश में आया है। चारों हत्या आरोपियों (Four Killer) को पुलिस ने जेल भेज दिया।

संपत्ति विवाद का मामला :- थाना कोतवाली देहात क्षेत्र के सातनपुर गांव निवासी रईस व रसीद एक ही पिता की संतान हैं। दोनों के बीच संपत्ति को लेकर विवाद चला आ रहा है। रईस काफी दिनों से गांव-गांव दूध खरीद कर उसे दुकानों और जरूरतमंदों तक पहुंचाता था। वह लम्भुआ थाना क्षेत्र के टेरएं गांव के कई पशुपालकों से भी दूध खरीदता था। सुबह उसके घर से निकलने का समय व रास्ता आरोपितों ने जान लिया था। बीते मंगलवार की अलसुबह नियोजित तरीके से रसीद के बेटों कप्तान व सुल्तान आलम ने अपने रिश्तेदार कोतवाली देहात के वजू गांव निवासी मोहम्मद साहिल के साथ मिलकर रईस को रास्ते में ही घेर लिया और लाठी-डंडों हॉकी से हमला कर दिया। आरोपियों ने लाठी डंडे से हुई मारपीट में लहूलुहान रईस अहमद को गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस मामले में सुल्तान की पत्नी साफिया बानो भी शामिल रही।

4 आरोपी को गिरफ्तार :- एएसपी विपुल कुमार श्रीवास्तव, पुलिस उपाधीक्षक राघवेंद्र चतुर्वेदी ने थानाध्यक्ष सुनील कुमार पांडे की मौजूदगी में मामले का पर्दाफाश किया। बताया जाता है कि वारदात में शामिल सभी 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने हत्यारोपियों से वारदात में जिस असलहों और गाड़ी का इस्तेमाल किया गया था, उसे भी बरामद कर लिया है। आरोपों से पिस्टल कारतूस भी बरामद हुई है।

Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned