शहर का नामी सेठ निकला काले कारनामों का बादशाह, पुलिस हिरासत से फरार, देखें वीडियो

शहर का नामी सेठ निकला काले कारनामों का बादशाह, पुलिस हिरासत से फरार, देखें वीडियो

Hariom Dwivedi | Publish: Sep, 08 2018 06:22:17 PM (IST) | Updated: Sep, 08 2018 07:07:05 PM (IST) Sultanpur, Uttar Pradesh, India

शातिर इतना कि पुलिस को चकमा देकर हुआ फरार, सुलतानपुर के नामचीन सेठ के काले कारनामों का पुलिस ने किया खुलासा...

सुलतानपुर. वह कभी खुद कर्जदार रहता था, लेकिन आज लोगों पर उसका लाखों रुपयों का बकाया है। जिलाधिकारी और एसपी के निर्देश पर पुलिस और आबकारी विभाग की छापेमारी में जिले के नामचीन सेठों में शुमार संगम सेठ के कई काले कारनामे सामने आ गये। पुलिस ने संगम सेठ को गिरफ्तार किया, लेकिन जेल जाने से पहले ही वह फरार हो गया।

जिला आबकारी अधिकारी सुधीर कुमार ने बताया कि बहुत बड़ी मात्रा में जहरीली शराब और नकली डीजल बरामद हुआ है। अभी लिखा-पढ़ी हो रही है। आरोपी पर समाज विरोधी गतिविधियों में संलिप्त रहने, गैंगस्टर और राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम के तहत कार्यवाही की जा रही है। इसके विरुद्ध आबकारी और पुलिस द्वारा संयुक्त रूप से एफआईआर दर्ज कराई गई है।

बीती रात कुड़वार पुलिस और आबकारी टीम ने संगम सेठ के तीन गोदामों पर छापेमारी कर बड़े गोरखधंधे का खुलासा किया। टीम को इन गोदामों से लगभग 70 लाख की अवैध शराब व हजारों लीटर केरोसिन तेल बरामद हुआ है। संगम सेठ पर केरोसिन की कालाबाजारी के 8 मुकदमे दर्ज हैं। सूत्र बताते हैं कि अगर संगम सेठ के काल डिटेल को निकालकर पुलिस छानबीन करे तो कुछ बड़े लोगों के नाम सामने आ सकते हैं।

कभी उधारी से चलाता था अपना खर्च और आज...
कुछ साल पहले तक उसके पिता किराना के दुकान से परिवार का पेट पालते थे। लोगों की उधारी के नीचे दबे रहने वाला संगम सेठ आज काले कारोबार के जरिये करोड़ों की संपत्ति का स्वामी है। इतना ही नहीं मौजूदा समय में बड़ी संख्या में लोग उसके कर्जदार हैं। संगम ने पहले केरोसिन की कालाबाजारी शुरू की। केरोसिन के काले कारोबार में अपना पांव जमाने के बाद उसने कच्ची देशी का गोरखधंधा शुरू किया। कुछ ही सालों में देखते ही देखते केरोसिन और कच्ची शराब के धंधे के बल पर वह करोड़ों रुपये की जायदाद का मालिक बन गया।

इसके पीछे है किसी बड़े गैंग का हाथ
सवाल यह है कि क्या पुलिस चौकी के बगल इतने बड़े काले बाजार का साम्राज्य संगम अकेले चला रहा था? या फिर इसके पीछे कोई बड़ा गिरोह काम कर रहा था? पुलिस और आबकारी विभाग ने अभी तक कुछ भी स्पष्ट नहीं किया है।

 

 

देखें वीडियो...

Ad Block is Banned