पांच इनामिया बदमाश गिरफ्तार, लूट की रकम, 5 पिस्तौल, कारतूस और बाइक बरामद

शहर के सबसे चर्चित फल व्यापारी से गभड़िया ओवरब्रिज पर हुई लूट का पुलिस ने खुलासा कर दिया है।

By: आकांक्षा सिंह

Published: 20 Jul 2018, 11:24 AM IST

सुलतानपुर. शहर के सबसे चर्चित फल व्यापारी से गभड़िया ओवरब्रिज पर हुई लूट का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। व्यापारी के साथ लूट की घटना को अंजाम देने लुटेरों के अलावा लूट की योजना बनाते 3 बदमाशों को असलहा, कारतूस तथा लूट की नगदी समेत पुलिस ने गिरफ्तार करके जेल भेज दिया।

लूट की वारदात का खुलासा करते हुए कोतवाली नगर में क्षेत्राधिकारी श्याम देव ने बताया कि 15-15 हज़ार के तीन इनामिया सहित 5 बदमाश अरेस्ट किये गए हैं। लूट की योजना बनाते समय पुलिस ने अरेस्ट किया है। पकड़े गये लुटेरों के कब्जे से 20 दिन पूर्व आढ़त व्यापारी से 3.50 लाख रुपयों की लूट की थी , जिसमें से पुलिस ने लूट का 55 हजार रुपए बरामद किए हैं । लूट का 55 हज़ार रुपये के अलावा 5 अवैध तमंचा और 5 कारतूस भी बरामद । लूट के पैसों से खरीदी गई बाइक भी बरामद हुई है । लुटेरों को नगर कोतवाली पुलिस ने केएनआई के पास टेंढुंई से पकड़े हैं ।

लूट की घटना 29 जून को हुई थी । शहर के लखनऊ नाका ओवर ब्रिज पर दिनदहाड़े फल व्यवसाई खैराबाद निवासी मोहम्मद रफीक से करीब 3 लाख 44000 रुपए लूट लिए थे ।शहर के खैराबाद निवासी मोहम्मद रफीक फल के थोक व्यवसाई हैं । 29 जून को जब वे अमहट स्थित नवीन सब्जी मंडी से कामकाज निपटाने के बाद नगदी जमा करने बैंक जा रहे थे ,तभी दोपहर करीब 1:30 बजे शहर के लखनऊ नाका ओवरब्रिज पर पहुंचते ही बदमाशों ने ओवरटेक करके रोक लिया था, जब तक वह कुछ समझ पाते बदमाशों ने तमंचा तान दिया और जान से मारने की धमकी देते हुए लूट कर फरार हो गए थे। संयुक्त व्यापार मंडल और फल व सब्जी व्यापार मंडल के पदाधकारियों का एक प्रतिनिधिमंडल 30 जून को जिलाधिकारी विवेक से मुलाकात कर घटना के संबंध में उन्हें ज्ञापन सौंपकर 2 दिन में खुलासे की मांग की थी ।

20 दिन बाद हुआ लूट का खुलासा

व्यवसाई से हुई लूट की घटना से गुस्साए संयुक्त व्यापार मंडल के जिला अध्यक्ष का कहना था कि यदि लूट की घटना का शीघ्र ही खुलासा नहीं किया गया तो व्यापारी पुलिस प्रशासन के खिलाफ आंदोलन करने को बाध्य हो जाएंगे । उन्होंने जिला प्रशासन से मंडी परिसर में बैंक की शाखा खोले जाने की मांग की। नगर कोतवाल श्यामसुंदर पांडेय का कहना था कि वारदात को अंजाम देने वाले बदमाशों की तस्वीर सीसीटीवी कैमरे में भी कैद है ।

प्रभारी मंत्री को दी थी जानकारी

जिले के प्रभारी मंत्री तथा प्रदेश सरकार के आबकारी एवं मद्य निषेध मंत्री जय प्रताप सिंहने अधिकारियों से घटना के जल्द खुलासे को हिदायत दे दिया था।

आकांक्षा सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned