बेटे बचाओ बेटी पढ़ाओ के नाम पर फर्जीवाड़ा, कई महिलाएं हुई शिकार

Abhishek Gupta

Publish: Sep, 17 2017 07:31:58 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
बेटे बचाओ बेटी पढ़ाओ के नाम पर फर्जीवाड़ा, कई महिलाएं हुई शिकार

भारतीय जनता पार्टी का नारा है "बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ" जिसमें बेटियों को पढ़ाने और भ्रूण हत्या को रोकने का काम किया जा रहा है.

सुल्तानपुर. भारतीय जनता पार्टी का नारा है "बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ" जिसमें बेटियों को पढ़ाने और भ्रूण हत्या को रोकने का काम किया जा रहा है, लेकिन अब यही स्लोगन फ्रॉड करने वाले लोगों के लिए संजीवनी बन गया है। कई लोग इस तरह का नारा देकर महिलाओं को ठगने का काम कर रहे हैं। हाल ही के दिनों में सुल्तानपुर जिले में कई महिलाएं इन ठगों के जाल में फंस कर काफी रुपया गँवा चुकी हैं।

"बेटी बचाओ,बेटी पढ़ाओ के नाम पर फिर हुई महिलाएं शिकार"

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की जिला प्रमुख और भाजपा नेत्री पूजा कसौधन ने अपना एक कार्यालय बनाया हुआ है, जहां पीड़ित महिलाओं की मदद की जाती है। कल कुछ दर्जन भर से ज़्यादा महिलाएं उनके पास पहुँची और बताया कि जगदीशपुर के वरिसगंज में कुछ लोग बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के नाम पर एक संस्था चला रहे हैं। जहाँ उन सभी महिलाओं से एक फॉर्म भरवाया जा रहा है और उन सब से साढ़े छह सौ रुपये जमा करवाकर काम करने को कहा जा रहा है और हर महीने 7 हजार रुपये भत्ता दिया जाएगा।

ऐसा संस्था के लोग बता रहे हैं। इन महिलाओं की बात सुन भाजपा नेत्री पूजा कसौधन वरिसगंज पहुंची और पुलिस को लेकर संस्था के ऑफिस पहुंच गई, जहां संस्था के लोग तो फरार हो गए थे, लेकिन मौके से एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया गया।

"अमेठी और सुल्तानपुर जिले में फैला रखा था जाल"

ठगी का शिकार हुई महिलाओं ने बताया कि संस्था के लोगों ने आस पास के इलाकों में लोगों को बहला फुसलाकर अपने संस्था से जोड़ रखा था। चूँकि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ प्रधानमंत्री का दिया हुआ नारा है, इसलिए महिलाएं आसानी से इस जाल में फंस रही थी।

"एक फार्म के नाम पर पहले भी हो चुकी है लूट"

अभी कुछ दिनों पहले बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के नाम दुकानों पर एक फार्म बिक रहा था। जिसके लिए महिलाओं में लूट मची हुई थी। फॉर्म फोटो स्टेट की दुकानों में 10 रुपये का बेचा जा रहा था। जिसके बारे में कह जा रहा था कि प्रत्येक फार्म पर 2 लाख रुपये मिलेंगे। फार्म को स्पीड पोस्ट से भेजा जाना था जिसके लिए डाकघरों में लंबी लंबी लाइन लगी हुई थी। जब इस फर्ज़ीवाड़े की भनक बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की जिला प्रमुख पूजा कसौधन को लगी तो इन्होंने इसकी शिकायत जिला प्रशासन से की। तब पुलिस ने फ़ोटो स्टेट की दुकानों पर छापेमारी कर फार्मो को जब्त कर लिया और लोगों को आगाह किया कि ऐसी कोई योजना सरकार की तरफ से नहीं चलाई गई है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned