ब्लाइंड मर्डर का खुलासा: थप्पड़ मारने से नाराज प्रेमी ने ही महिला की कर दी थी हत्या

Blind murder: महिला के अंधे कत्ल की गुत्थी सुलझी, आरोपी प्रेमी (Lover) गिरफ्तार, 25 दिसंबर को गन्ना खेत में मिली थी लाश (Woman murder)

By: rampravesh vishwakarma

Published: 29 Dec 2020, 03:24 PM IST

सूरजपुर. खडग़वां चौकी अंतर्गत ग्राम मानपुर की एक महिला का 25 दिसंबर की सुबह केरता के गन्ना खेत में लाश मिलने से सनसनी फैल गई थी। महिला की हत्या (Woman murder) की गई थी। इस अंधे कत्ल (Blind murder case) की गुत्थी पुलिस ने सुलझाते हुए मृतका के प्रेमी को गिरफ्तार किया है।


एसपी राजेश कुकरेजा (Surajpur SP) ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि ग्राम मानपुर निवासी 40 वर्षीय पविता तिग्गा पति स्व. गोपाल 24 दिसंबर की सुबह 9 बजे घर से गन्ना काटने केरता जाने की बात कहकर निकली थी। लेकिन वह रात तक घर वापस नहीं आई। अगले दिन सुबह उसका शव ग्राम केरता में गन्ने खेत में मिला था।

अज्ञात आरोपी ने उसकी हत्या कर दी थी। अंधे कत्ल (Blind murder) की गुत्थी सुलझाने एसपी ने एसडीओपी प्रतापपुर पीएस महिलाने व एसडीओपी ओडग़ी मंजूलता बाज के नेतृत्व में पुलिस टीम का गठन कर जांच में लगाया।

पुलिस टीम को विवेचना के दौरान जानकारी मिली कि मृतका का प्रेम संबध (Love relation) करीब 10 वर्षों से ग्राम पंपापुर निवासी 40 वर्षीय देव सिंह पिता कानगो से था। शक के आधार पर पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने मृतका का हत्या (Murder) करने का जुर्म कबूल लिया। इस पर पुलिस ने आरोपी को धारा 302 के तहत गिरफ्तार कर लिया।

कार्रवाई में थाना प्रभारी (Police station in-charge) प्रतापपुर विकेश तिवारी, थाना प्रभारी भटगांव किशोर केंवट, चौकी प्रभारी खडग़वां विमलेश सिंह, बृजकिशोर पाण्डेय, धनंजय पाठक, विशाल मिश्रा, इन्द्रजीत सिंह, संतोष सिंह, विवेक पाण्डेय, संजय सिंह, कृष्णकांत पाण्डेय, युवराज यादव, रौशन सिंह, रजनीश पटेल, मोहम्मद नौशाद, अभय तिवारी व प्रमोद गुप्ता सक्रिय रहे।

आरोपी ने इस कारण से ले ली जान
आरोपी देव सिंह ने पुलिस को बताया कि 24 दिसंबर को उसने ही मृतका को फोन कर अपने घर बुलाया था। यहां दोनों ने शराब का सेवन किया। इसके बाद दोपहर 3 बजे देव सिंह मृतका को अपने साथ केरता निवासी दसरू पनिका के घर ले गया। यहां भी दोनों ने शराब पी।

इसी दौरान मृतका की बेटी का फोन आया तो देव सिंह ने रिसीव कर हैलो-हैलो बोल कर काट दिया। इसके बाद दोनों घर जाने निकले, रास्ते में पविता खेत में गिरकर पानी से भीग गई। फिर देव सिंह ने एक व्यक्ति के घर से पैरा व अपने घर से आम की लकड़ी, मिट्टी तेल व माचिस लेकर आया। इसके बाद आग जलाकर दोनों तापने लगे।

इसी बीच मृतका इस बात पर नाराजगी जताने लगी कि तुम मेरी बेटी का फोन क्यों उठा लिए, इससे मेरे घर वाले जान जाएंगे कि मैं गन्ना (Sugarcane) काटने नहीं आई हूं, तुम्हारे साथ हूं।

ऐसा बोलते हुए मृतका ने आरोपी को एक थप्पड़ (Slapped) मार दिया। इससे नाराज होकर देव सिंह मृतका को पीटने लगा व लात से उसके सीने-सिर पर मार दिया। इससे मृतका बेहोश हो गई और कुछ ही देर बाद उसकी मौत हो गई।

Show More
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned