झाडिय़ों में मिली महिला के अंधे कत्ल की गुत्थी सुलझी, इस बात पर देवर के बेटे ने की नृशंस हत्या

Blind murder: 15 अगस्त (Independence Day) का स्कूल में मिठाई खाने की बात कहकर घर से निकली थी महिला, तीसरे दिन झाडिय़ों के बीच मिली थी लाश (Dead body in bushes)

By: rampravesh vishwakarma

Published: 21 Aug 2021, 04:44 PM IST

सूरजपुर. प्रतापपुर थाना क्षेत्र के ग्राम अमनदोन में 15 अगस्त को हुई महिला के अंधे कत्ल की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। मामले में पुलिस ने मृतका के देवर के बेटे को गिरफ्तार किया है।

दरअसल मृतका आए दिन शराब के नशे में देवर के परिवार से गाली-गलौज करती थी। इसी रंजिश के कारण देवर के बेटे ने सब्बल से वार कर महिला को मौत के घाट उतार दिया था।


सूरजपुर जिले के प्रतापपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम अमनदोन निवासी धनियो प्रजापति पति विफल राम 53 वर्ष शराब पीने की आदी थी। वह कभी-कभी शराब का सेवन कर लेने के बाद 1-2 दिन घर नहीं आती थी। इसी बीच 15 अगस्त की शाम 4 बजे घर से बस्ती की तरफ गई, लेकिन वापस नहीं लौटी।

पति ने शुरु में सोचा कि पूर्व की तरह वह खुद ही घर लौट आएगी, लेकिन वह अगले दिन भी घर नहीं आई। इसके बाद 17 अगस्त की सुुबह खोजबीन के दौरान घर के पीछे पुटुस झाड़ी के पास उसकी लाश मिलने से सनसनी फैल गई। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। मृतका के सिर के पीछे एवं दाहिने आंख के पास चोट के निशान थे।

Read More: गन्ना काटने निकली महिला की खेत में मिली अद्र्धनग्न लाश, दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका

पीएम रिपोर्ट में भी हत्या की पुष्टि होने पर पुलिस धारा 302, 201 के तहत अपराध दर्ज कर जांच में जुट गई। विवेचना के दौरान पुलिस को जानकारी मिली कि मृतका अक्सर शराब के नशे में पड़ोस में रहने वाले अपने देवर गेंदाराम के परिवार को गाली-गलौज करती थी, इसकी वजह से दोनों परिवारों में बातचीत व आना-जाना बंद था।

फिर शक के आधार पर पुलिस ने गेंदाराम के बेटे बालक प्रजापति को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने अपनी चाची की हत्या (Aunty murder) करने का जुर्म कबूल लिया। इस पर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर घटना में प्रयुक्त सब्बल को जब्त कर लिया।

Read More: स्वतंत्रता दिवस के दिन मिठाई खाने निकली महिला की संदिग्ध हालत में मिली लाश, शरीर पर थे ये निशान


इस कारण ले ली जान
आरोपी ने बताया कि 15 अगस्त (Independence Day) की रात करीब 8 बजे वह अपने घर जा रहा था। इसी दौरान मृतका अपने घर के पीछे से गाली-गलौज कर रही थी जिसे वह समझाने गया। समझाने के बाद भी नहीं मानी तब आरोपी ने आवेश में आकर सब्बल से मृतका के सिर पर ताबड़तोड़ प्रहार कर उसे मौत के घाट उतार दिया। इसके बाद शव को पुटुस झाड़ी में छिपा दिया था।


कार्रवाई में ये रहे शामिल
कार्रवाई में थाना प्रभारी प्रतापपुर विकेश तिवारी, एसआई नवल किशोर दुबे, एएसआई राजेश तिवारी, प्रधान आरक्षक संतोष सिंह, लखेश साहू, आरक्षक अभय तिवारी, इन्द्रजीत सिंह, मिथलेश गुप्ता, कौशलेन्द्र सिंह, दलसाय कोराम, राजीव लोचन व महिला आरक्षक आशा लकड़ा सक्रिय रहे।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned