बैगा की ये बात सुनते ही एक ने स्टाम्प पेपर पर लिखकर ली जिम्मेदारी, टोनही के शक में कराया ये और हो गई महिला की मौत

बैगा की ये बात सुनते ही एक ने स्टाम्प पेपर पर लिखकर ली जिम्मेदारी, टोनही के शक में कराया ये और हो गई महिला की मौत

Ram Prawesh Wishwakarma | Publish: Mar, 17 2019 04:20:25 PM (IST) Surajpur, Surajpur, Chhattisgarh, India

बेटे की मौत के बाद आरोपी पिता ने महिला पर जादू-टोना करने का लगाया था आरोप, आरोपियों ने महिला के बेटे को लिया था अपने झांसे में

बिश्रामपुर. ग्राम मलगा में टोनही का आरोप लगाकर वृद्ध महिला का जबरन 14 दिन तक झाडफ़ूंक कराया गया। इस दौरान उसकी तबियत काफी बिगड़ गई और उसने दम तोड़ दिया।

बैगा ने कहा था कि झाडफ़ूंक के दौरान यदि वृद्धा को कुछ होता है तो उसकी जिम्मेदारी कौन लेगा तो एक आरोपी ने स्टांप पेपर पर लिखकर खुद जिम्मेदारी लेने की बात कही। मां की मौत के बाद बेटे ने मामले की रिपोर्ट थाने में दर्ज कराई है।


सूरजपुर जिले के जयनगर थानांतर्गत ग्राम मलगा निवासी सुबंस राम की 65 वर्षीय मां सुखमेन बाई पर गांव के ही बालेश्वर ने आरोप लगाया था कि उसके पुत्र चंद्रशेखर की मौत सुखमेन के जादू-टोना करने से हुई है।

झाडफ़ंूक किए जाने से ही सुखमेन ठीक हो सकती है, ऐसा कहकर उसने ग्रामीणों की मदद मांगी लेकिन किसी ने उसका साथ नहीं दिया। फिर आरोपी ने वृद्धा के दूसरे पुत्र वंश गोपाल को अपने झांसे में लिया और २ मार्च को सुखमेन को जबरन ग्राम राजापुर के एक बैगा के पास ले गया।

बैगा ने उसके सामने शर्त रखी कि अगर झाडफ़ूंक के दौरान कुछ हुआ तो इसकी जिम्मेदारी तुम लोगों की होगी। इस पर दूसरे आरोपी ध्वजनाथ ने एक स्टाम्प पेपर पर लिखकर अनहोनी की जिम्मेदारी ली।

इसके बाद बैगा ने झाडफ़ूंक शुरू कर दिया। 14 दिन तक झाडफ़ूंक का खेल चलता रहा और तबियत काफी बिगड़ जाने से शनिवार को वृद्धा ने दम तोड़ दिया। मृतिका के पुत्र सुबंस राम ने मामले की लिखित शिकायत जयनगर थाने में दर्ज कराई है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned