समिति में बिना पहुंचे ही बिक गया किसान का धान, राशि भी आहरित, भाजपा हुई हमलावर

Paddy selling: शिकायत (Complaint) सामने आने के बाद प्रशासन (Administration) ने गठित की जांच टीम, किसानों से हो रहा छलावा

By: rampravesh vishwakarma

Published: 21 Jan 2021, 11:05 PM IST

सूरजपुर. धान खरीदी को लेकर किसान (Farmers) तो परेशान है ही उनकी परेशानी का एक सबब यह भी है कि अब वह छला भी जा रहा है। ऐसा ही एक मामला सूरजपुर मंडी स्थित आदिम जाति सेवा सहकारी समिति का है जहां किसान धान लेकर पहुंचा भी नहीं और उसकी धान की बिक्री (Paddy selling) समिति द्वारा कर ली गई।

मामला तो यह भी सामने आया कि फर्जी (Fake) तरीके से उसका पैसा भी आहरण कर लिया गया है। इस मामले को लेकर भाजपा अब प्रशासन व सरकार को घेरने की तैयारी में है।


मामला प्रकाश में आने के बाद भाजपा जिला अध्यक्ष बाबूलाल अग्रवाल ने कहा कि किसान आज अपना दाना दाना बेचने के लिए मोहताज हो रहा है जिस किसान की बदौलत कांग्रेस सत्ता में आई है आज वही किसान परेशान हो रहा है और खुद को ठगा सा महसूस कर रहा है।

मंडी स्थित आदिम जाति सेवा सहकारी समिति में किसान के साथ हुए फर्जीवाड़े के मामले में उन्होंने सीधे-सीधे भाजपा की एक समिति बनाने की बात कही है जो इस मामले की सच्चाई जानकर जिला ही नहीं प्रदेश स्तर तक आवाज बुलंद करेगी।

भाजपा जिला अध्यक्ष अग्रवाल खुद ऐसे मामले को लेकर हतप्रभ रहे कि इस सरकार में ऐसे भी कारनामे हो सकते हैं, इस दौरान पूर्व गृहमंत्री रामसेवक पैकरा व भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता अनुराग सिंह देव भी मौजूद रहे जिन्होंने साफ तौर पर कहा कि मामला गंभीर है और इसकी सच्चाई सामने आने पर जिला प्रशासन ही नहीं सरकार का भी घेराव किया जाएगा।

जिला अध्यक्ष बाबूलाल अग्रवाल ने इस मामले को लेकर गंभीर दिखे और उन्होंने कहा कि शीघ्र ही पांच सदस्यीय टीम गठित कर मामले की सच्चाई से अवगत होगी और भाजपा किसान के परिवार को न्याय दिलाने का काम करेगी।

इधर इस मामले को लेकर कुछ बिचौलिए किस्म के लोग भी सेटिंग में लगे हुए हैं मगर भाजपा के संज्ञान में लेने के बाद मामला और गरमाता दिख रहा है।


शीघ्र ही सौंपी जाएगी जांच रिपोर्ट
मामले की गंभीरता को देखते हुए प्रशासन ने जांच टीम गठित की है। तहसीलदार नंदजी पांडे के नेतृत्व में गठित जांच दल मामले से जुड़े प्रत्येक तथ्य को खंगाल रहा है। तहसीलदार पांडे ने बताया कि मामले की जांच खाद्य निरीक्षक के साथ की जा रही है। शीघ्र ही रिपोर्ट उच्च अधिकारियों को सौंप दी जाएगी।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned