बिल्डर के साथ १.६५ करोड़ रुपए की ठगी

बिल्डर के साथ १.६५ करोड़ रुपए की ठगी

Dinesh M.Trivedi | Publish: May, 17 2019 01:13:09 PM (IST) Surat, Surat, Gujarat, India


-मुंबई के दो जनों के खिलाफ मामला दर्ज

सूरत. मुंबई के दो जनों ने शहर के एक बिल्डर को अंतरराष्ट्रीय बैंकों से कम ब्याज पर लोन से कारोबार बढ़ाने का झांसा देकर एक करोड़ ६५ लाख रुपए ऐंठ लिए। रुपए वापस मांगने पर उन्होंने बिल्डर को जान से मारने की धमकी दी।
सरथाणा पुलिस के मुताबिक मुंबई शांताकुंज निवासी शिल्पी खीमाणी और अंधेरी वेस्ट निवासी दिव्यांशु वैष्णव ने पूणागाम यौगीचौक सर्जन हाइट्स निवासी बिल्डर हसमुख कोराट के साथ ठगी की। दोनों अगस्त २०१७ में योगीचौक स्वास्तिक प्लाजा के हसमुख के कार्यालय में उससे मिले और बताया कि उनका खीमामी इन्वेस्टमेंट प्राइवेट लिमिटेड के नाम से बड़ा कारोबार है। वह देश के कारोबारियों को विदेशी निवेश उपलब्ध करवाते हैं। दिव्यांशु के लंदन के अकाउंट में ५५ करोड़ अमरीकी डॉलर की एसबीएलसी (स्टेण्ड बाय लेटर ऑफ क्रेडिट) है। इस क्रेडिट की गारंटी से वह उन्हें सिर्फ ४ प्रतिशत वार्षिक ब्याज पर करोड़़ों रुपए का लोन दिलवा सकते हैं। उन्होंने हसमुख को बड़ा प्रोजेक्ट शुरू करने के बारे में बताया तथा मुनाफे में उसके साथ ५० फीसदी की भागीदारी के बारे में भी बात की। हसमुख इसके लिए तैयार हो गया तो उन्होंने उसके नाम पर लोन की कार्रवाई करने के बहाने आरटीजीएस से टुकड़ो-टुकड़ों में ७५ लाख रुपए और ९० लाख रुपए ले लिए, लेकिन हमसुख को लोन नहीं दिलवाया। रुपए मांगने पर वह लंबे समय तक टालमटोल करते रहे, फिर बात करना भी बंद कर दिया। जब हसमुख ने जोर देकर रुपए वापस मांगे तो उन्होंने रुपए लौटाने से मना कर दिया और अपशब्द कह कर उसे जान से मारने की धमकी दी। हसमुख ने बुधवार रात सरथाणा थाने में प्राथमिकी दर्ज करवाई।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned