त्यौहार स्पेशल में 441 सीटें खाली रही...

- तेजस और सूरत-भागलपुर, उधना-दानापुर स्पेशल 2971 यात्रियों के साथ हुई रवाना

By: Sanjeev Kumar Singh

Updated: 18 Oct 2020, 10:19 PM IST

सूरत.

कोरोना के चलते मार्च से बंद अहमदाबाद- मुम्बई तेजस एक्सप्रेस के साथ-साथ बहुप्रतिक्षित सूरत-भागलपुर और उधना-दानापुर एक्सप्रेस 17 अक्टूबर को रवाना की गई। त्यौहार स्पेशल के रूप में शुरू हुई इन ट्रेनों में बुकिंग लगभग फुल रही। भागलपुर के लिए 1611 और दानापुर के लिए 1333 यात्रियों ने सफर किया। वहीं, तेजस एक्सप्रेस में सूरत से मुम्बई समेत अन्य स्टेशनों के लिए 27 यात्रियों ने सफर किया।

महामारी की रोकथाम के लिए भारतीय रेलवे की नियमित ट्रेनें बंद हैं। दशहरा, दीपावली और छठ पूजा को ध्यान में रखते हुए रेलवे ने त्यौहार स्पेशल ट्रेनों का 15 अक्टूबर से
संचालन शुरू किया है, जो नवम्बर तक चलाई जाएगी। 82902 अहमदाबाद-मुम्बई तेजस एक्सप्रेस 17 अक्टूबर से गुरुवार को छोडक़र अन्य छह दिन शुरू की गई है। यह ट्रेन अहमदाबाद से सुबह 6.40 बजे रवाना होकर सूरत 9.35 बजे पहुंची। अहमदाबाद से मुम्बई के लिए कुल 170 यात्री ने सफर किया। इसमें भरुच से मुम्बई के लिए नौ, सूरत से वापी के लिए एक, बोरीवली के लिए छह, अंधेरी के लिए तीन और मुम्बई सेंट्रल के लिए 17 यात्रियों ने सफर किया। वापी से बोरीवली के लिए दो, अंधेरी व मुम्बई के लिए 4-4 यात्रियों ने सफर किया। वहीं, मुम्बई से अहमदाबाद के लिए 211 यात्रियों ने सफर किया है।

सूरत से भागलपुर और उधना से दानापुर के बीच चलने वाली ट्रेन की काफी समय से शुरू करने की मांग की जा रही थी। पहले फेरे में यह दोनों ट्रेनें क्रमश: 1611 और 1333 यात्रियों के साथ रवाना हुई है। सूरत सीएमआइ आर. आर. शर्मा ने बताया कि भागलपुर में तृतीय एसी में 122, स्लीपर में 888 और द्वितीय श्रेणी बैठकयान में 418 यात्रियों ने सफर किया।

गौरतलब है कि, सूरत और उधना से रवाना होने वाली यह दोनों ट्रेन बारहों माह फुल रहती है। इन दोनों ट्रेनों के बंद रहने से बिहार जाने वाले यात्रियों को ट्रेन की कमी महसूस हो रही थी। इसके चलते अहमदाबाद-मुजफ्फरपुर और बान्द्रा-पटना स्पेशल में भीड़ बढ़ गई थी। लेकिन अब इन दोनों ट्रेन के शुरू होने से यात्रियों को बड़ी राहत मिली है। गौरतलब है कि, रेलवे ने वातानुकूलित कोचों की संख्या बढ़ाकर स्पेशल ट्रेन चलाने के निर्देश जोन को दिए हैं, लेकिन यात्री कोरोना के चलते एसी कोचों से दूरी बनाए हुए है। पहले दिन रवाना हुई ट्रेनों में वातानुकूलित कोचों में यात्रियों की संख्या 50 प्रतिशत से कम देखने को मिली।

स्लीपर क्लास में 90 प्रतिशत से अधिक एक्यूपेंसी

रेलवे ने बताया कि सूरत-भागलपुर में 183 सीटें और उधना-दानापुर में 258 सीटें रिक्त रह गई है। लेकिन अब तक शुरू हुई स्पेशल ट्रेनों के तुलना में इस ट्रेन में यात्रियों की संख्या अधिक रही है। इन दोनों ट्रेन के स्लीपर श्रेणी में 90 प्रतिशत से अधिक एक्यूपेंसी रही है। वहीं द्वितीय व तृतीय एसी श्रेणी में 40 प्रतिशत के करीब एक्यूपेंसी रही है। दानापुर स्पेशल में तृतीय एसी में 185 और भागलपुर में 134 सीट रिक्त रह गई।


सूरत में तेजस का करंट काउंटर नदारद

सूरत रेलवे स्टेशन पर शनिवार को तेजस एक्सप्रेस के लिए आइआरसीटीसी का करंट काउंटर नहीं लगाया गया था। यह काउंटर करंट खिडक़ी संख्या 14 के नजदीक लगाया जाता है। वहीं सूरत से अप व डाउन में खाना चढ़ाया गया। इसके अलावा आइआरसीटीसी ने कोरोना वायरस संक्रमण के चलते सेनेटाइज की व्यवस्था की थी। यात्रियों को मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के निर्देश दिए गए थे। दो यात्रियों के बीच एक सीट खाली रखी गई थी। तीन सीट पर दो व्यक्ति और दो सीट पर एक व्यक्ति ने सफर किया।

Sanjeev Kumar Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned