70 डॉक्टर ने किया प्लाज्मा और रक्तदान

- 33 चिकित्सकों ने रक्तदान किया

By: Sanjeev Kumar Singh

Published: 21 Sep 2020, 10:37 PM IST

सूरत.

कोरोना वायरस की लड़ाई फ्रंट फाइटर डॉक्टर और नर्सिंग स्टाफ ने अहम भूमिका निभाई है। स्वयं के संक्रमित होने के बाद भी उनका जोश बना रहा और स्वस्थ होकर फिर से मरीजों के इलाज में जुट गए। अब इससे और आगे निकल कर मोटा वराछा मेडिकल एसोसिएसन के 70 चिकित्सकों ने प्लाज्मा और रक्तदान करके समाज को नई राह दिखाई है।

मोटा वराछा मेडिकल एसोसिएशन के प्रमुख डॉ. संजय ठुम्मर ने बताया कि कोरोना मरीजों को सरलता से प्लाज्मा और रक्त मिले, इसके लिए एसोसिएशन ने पहल की। उन्होंने बताया कि एसोसिएशन के 70 चिकित्सकों में कोरोना वायरस के लक्षण दिखाई दिए थे। स्मीमेर अस्पताल के ब्लड बैंक के डॉ. अंकिता शाह से सम्पर्क कर एंटीबॉडी टेस्ट करवाया। इसमें 37 चिकित्सकों में एन्टीबॉडी डेवलप होने की जानकारी मिली, जिन्होंने ब्लड बैंक में प्लाज्मा दान किया है। वहीं अन्य 33 चिकित्सकों ने रक्तदान किया है। एसोसिएशन के पूर्व प्रमुख डॉ. योगेश वाघाणी ने प्लाज्मा दान किया है। इन्होंने बताया कि लॉकडाउन के समय से ही एसोसिएशन संक्रमितों का इलाज और आर्थिक कमजोर करीब ढाई लाख लोगों को राशन किट वितरण किया है।
--------------------

Sanjeev Kumar Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned