डिंडोली के दुकानदार के खाते से 90 हजार पार, एचडीएफसी क्रेडिट कार्ड प्रोसेस का झांसा देकर की ठगी

- कपड़ा व्यापारी के साथ 32.22 लाख की धोखाधड़ी

- 27 हजार की शराब के साथ महिला बूटलेगर गिरफ्तार

 

By: Dinesh M Trivedi

Published: 08 Oct 2021, 09:22 PM IST

सूरत. डिंडोली क्षेत्र में मोबाइल फोन की दुकान चलाने वाले एक व्यापारी के बैंक खाते से 90 हजार रुपए पार करने का मामला सामने आया है। इस संबंध में डिंडोली पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की है। पुलिस के मुताबिक डिंडोली मानसी रेजिडेंसी निवासी पीडि़त दीपक पटनायक ने गत 24 सितम्बर को एचडीएफसी बैंक का क्रेडिट कार्ड लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन किया था। अगले दिन उनके मोबाइल पर कॉल आया।

फोन करने वाले ने अपनी पहचान एचडीएफसी बैंक के कर्मचारी के रूप में दी। फिर व्हॉट्सएप पर आधारकार्ड, पेन कार्ड व उनके एक अन्य क्रेडिट कार्ड, बैंक स्टेटमेंट और फोटो आदि की डिटेल ले ली। बाद में उसने मोबाइल पर पीडि़त को एक लिंक भेजा। लिंक पर क्लिक करने के बाद उनके मोबाइल में ओटीपी आए और खाते से 90 हजार रुपए पार हो गए। बाद में पीडि़त ने डिंडोली पुलिस थाने में लिखित शिकायत दी। जिसके आधार पर पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज की।
........

27 हजार की शराब के साथ महिला बूटलेगर गिरफ्तार

सूरत. वराछा पुलिस ने वीएस ढोसा सेन्टर के निकट 27 हजार रुपए की शराब जब्त कर एक महिला बूटलेगर को गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक नवसारी के चिखली निवासी इला पटेल शराब तस्कर है। वह शराब की खेप पहुंचाने के लिए सूरत आई थी। उसके बारे में मुखबिर से सूचना मिलने पर उसे गिरफ्तार कर लिया।
-------------

कपड़ा व्यापारी के साथ 32.22 लाख की धोखाधड़ी

सूरत. वेसू के कपड़ा व्यापारी के साथ 32.22 लाख की धोखाधड़ी के आरोप में सलाबतपुरा पुलिस ने आठ जनों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस के मुताबिक राकेश, रवि पारेख, पीयूष सरवैया, विजय भगवानजी, अमित बजाज, रमेश बलदेव, विकास भट्टर और दलाल अंकुर धीवाला ने मिलकर वेसु के नंदनी-1 निवासी नीलेश नंदकिशोर राठी के साथ धोखा किया।

सूरत टेक्सटाइल मार्केट में कपड़े का कारोबार करने वाले नीलेश से तीन साल पूर्व अंकुर ने मुलाकात की। नीलेश को भरोसे में लेकर उसने अपने साथी व्यापारियों को उधार में माल दिलाया, लेकिन उन्होंने समय पर भुगतान नहीं किया। लंबे समय तक टालते रहे। फिर पैंमेंट मांगने पर जान से मारने की धमकी दी। इस पर पीडि़त ने पुलिस से संपर्क किया।
........

Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned