उधना यार्ड में खड़ी खाली सूरत-वलसाड मेमू में आग

एक कोच पूरी तरह जला, कोई जन हानि नहीं, कुछ देर बाधित रहा यातायात

By: Sandip Kumar N Pateel

Updated: 19 May 2018, 08:59 PM IST

सूरत. उधना स्टेशन पर शनिवार दोपहर साढ़े तीन बजे लाइन नम्बर पांच पर खड़ी सूरत-वलसाड मेमू ट्रेन के खाली रेक में अचानक आग लगने से हड़कंप मच गया। हादसे में कोई जन हानि नहीं हुई, लेकिन एक कोच पूरी तरह जल गया, जबकि कुछ दूसरे कोच में भी नुकसान हुआ। इस हादसे के कारण रेल यातायात कुछ देर बाधित रहा। एक मेमू ट्रेन रद्द करनी पड़ी और दो ट्रेनों को अलग-अलग जगह रोककर देरी से चलाया गया।


उधना स्टेशन के यार्ड में जगह अधिक होने के कारण सूरत से शुरू होने वाली ट्रेनों को यार्ड में रखने की व्यवस्था है। वलसाड-सूरत मेमू होलीडे स्पेशल शनिवार सुबह 9.05 बजे उधना स्टेशन पर खाली आई थी। इस ट्रेन को शनिवार शाम 5.45 बजे सूरत-वलसाड मेमू होलीडे बनाकर चलाने की तैयारी थी। यह दोपहर 3.32 बजे उधना यार्ड में लाइन नम्बर पांच पर खड़ी थी। इसके चौथे नम्बर के कोच में आग लग गई। कोच से धुआं निकलता देख रेलवे सुरक्षा बल के जवान मौके पर पहुंचे। उन्होंने स्टेशन मास्टर को जानकारी दी। स्टेशन मैनेजर वी.एन. कदम ने इमरजेंसी की घोषणा करते हुए रेल कर्मचारियों को अग्निशमन यंत्र लेकर पहुंचने के लिए कहा। रेल कर्मचारियों से आग काबू में नहीं आने पर दमकल विभाग को सूचना दी गई। दमकल कर्मी 3.55 बजे उधना स्टेशन पहुंचे। उन्होंने पानी की बौछार कर आग पर काबू पाया। पानी की पाइप लाइन रेलवे ट्रेक पर 25 मिनट तक रही, जिसके कारण सूरत से उधना की ओर और भेस्तान से उधना की तरफ जाने वाली दो ट्रेनों को अलग -अलग जगह रोके रखा गया। सूरत से स्टेशन डायरेक्टर सी.आर. गरुड़ा, डीएमइ, एइएन समेत टेक्निकल स्टाफ मौके पर पहुंचा। आग पर काबू पाने के बाद रेलवे परिचालन 4.20 बजे से बहाल हो गया।


एक ट्रेन रद्द, दो लेट


उधना स्टेशन पर सूरत-वलसाड मेमू ट्रेन के रेक में आग लग जाने के कारण सूरत से शनिवार शाम 5.45 बजे रवाना होने वाली सूरत-वलसाड मेमू ट्रेन रद्द कर दी गई, जबकि 6.15 बजे सूरत से वलसाड के लिए चलने वाली मेमू ट्रेन को विरार तक विस्तार दे दिया गया। इसके अलावा सूरत-बांद्रा टर्मिनस इंटरसिटी को सूरत स्टेशन पर 30 मिनट अतिरिक्त रोके रखा गया। बांद्रा टर्मिनस-अमृतसर पश्चिम एक्सप्रेस को उधना स्टेशन से पहले आउटर सिगनल पर 20 मिनट रोके रखा गया। उधना स्टेशन के यार्ड में आग लगने के कारण बिजली की सप्लाई 3.55 बजे से 4.20 बजे तक बंद रखी गई।


आग के कारण का पता नहीं


सूरत स्टेशन से अधिकारी उधना स्टेशन पहुंचे, लेकिन कोई आग के कारणों के बारे में खुलकर नहीं बोल रहा है। अधिकारियों ने बताया कि मामले की जांच के बाद ही कारण का पता चलेगा। कुछ दिन पहले यार्ड में खड़ी एक ट्रेन के डिब्बे से 4 लाख रुपए की शराब पकड़ी गई थी। समाज कंटकों के बढ़ते प्रभाव से यार्ड अवैध कार्यों का अड्डा बनता जा रहा है। आग में एक कोच पूरी तरह जल गया, वहीं दोनों ओर के एक-एक कोच को भी नुकसान पहुंचा है। सुरक्षा अधिकारियों ने कोच बंद हालत में होने की जानकारी दी है। मेमू ट्रेन का पेंटाग्राफ बिजली के तार से जुड़ा हुआ था। उसके कारण चौथे नम्बर के कोच में शॉर्ट सर्किट से आग लगने की आशंका जताई जा रही है।

Sandip Kumar N Pateel Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned