RAPE : चार साल की मासूम से दरिंदगी करने वाला आरोपी गिरफ्तार


- घर के निकट से संतरे दिलवाने के बहाने किया अपहरण
- डेढ़ किलोमीटर दूर झाडिय़ों में बनाया हवस का शिकार

By: Dinesh M Trivedi

Updated: 13 Oct 2021, 09:43 PM IST

सूरत. चार साल की मासूम बच्ची को निर्दयतापूर्वक हवस का शिकार बनाने के आरोप में सचिन जीआइडीसी पुलिस ने एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर सात दिन के रिमांड पर लिया है। मामले की जांच कर रहे जेपी जाड़ेजा ने बताया कि सचिन जीआइडीसी बर्फ फैक्टरी के निकट मधु मारवाड़ी चाल में रहने वाले हनुमान उर्फ अजय निषाद (39) ने चार वर्षीय मासूम को अपनी हवस का शिकार बनाया। वह मंगलवार सुबह टिफिन लेकर अपने काम से लौट रहा था।

उस दौरान साढ़े नौ बजे उसने पीडि़त बच्ची को अन्य दो बच्चों के साथ घर के बाहर खेलते देखा और उसकी नियत बिगड़ी। वह संतरे दिलवाने के बहाने उसे अपने साथ घर से डेढ़ किलोमीटर दूर झाडिय़ों के बीच खुले औद्योगिक कंपाउन्ड में ले गया। वहां पर उसके साथ निर्दयता पूर्वक बलात्कार किया। मासूम के रोने बिलखने पर उसे वहीं छोड़ कर अपने घर लौट आया। वह निश्चित था कि उसे किसी ने नहीं देखा। वह पकड़ा नहीं जाएगा।


सीसीटीवी से मिला सुराग :

दोपहर बाद मामला सामने आने पर पुलिस ने अलग- अलग टीमें बना कर बच्ची और आरोपियों की खोज में जुट गई। इस अभियान में 100 से अधिक पुलिसकर्मी जुटे थे। शाम को बच्ची के मिलने पर पुलिस ने आरोपी की तलाश तेज कर दी। पुलिस को एक टीम सीसीटीवी फुटेज से मिले आरोपी और बच्ची की फोटो लेकर पूरे इलाके में तलाश कर रही थी। बर्फ फैक्टरी इलाके में कुछ लोगों ने उसे पहचान लिया और उसके घर का पता दिया। तडक़े साढ़े तीन बजे पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

अदालत से सात दिन के रिमांड पर लिया :

बताया गया है कि थाने में पूछताछ के दौरान उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया।पुलिस को घटनास्थल के फोरेन्सिक जांच में कुछ साक्ष्य भी मिले। आरोपी की मेडिकल जांच और घटना की रिहर्सल कर आरोपी के खिलाफ पुख्ता साक्ष्य जुटाने के लिए पुलिस ने बुधवार को उसे अदालत में पेश किया और सात दिन के रिमांड पर लिया है।

बड़ी बेटी सत्रह साल की, परिवार सकते में :

चार साल की मासूम बच्ची को हवस का शिकार बनाने के आरोप में पकड़ा गया। हनुमान उत्तरप्रदेश के हमीरपुर जिले के पुराना जमनाघाट का निवासी है। वह वर्षो से सचिन जीआइडीसी क्षेत्र में पत्नी व बच्चों के साथ रहता है। उसकी उसकी अपनी दो पुत्रियां और एक पुत्र है। सबसे बड़ी पुत्री की उम्र सत्रह वर्ष की है।

हनुमान की गिरफ्तारी के बाद से उसकी पत्नी और परिवार सकते में है। परिजनों को उसने बताया था कि वह काम पर गया था। वहीं, उसने पुलिस को बताया कि तीन दिन पहले ही उसने कारखाने से काम छोड़ दिया था। टिफिन उसके मित्र का था। बहरहाल पुलिस पूछताछ में जुटी है।

Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned