डॉ.दोषी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस के पास पर्याप्त सबूत

डॉ.दोषी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस के पास पर्याप्त सबूत

Dinesh M Trivedi | Publish: Sep, 11 2018 11:52:04 AM (IST) Surat, Gujarat, India

डिप्टी पुलिस आयुक्त ने किया दावा, गिरफ्तारी के लिए टीमें बनाई
मरीज से बलात्कार का मामला

सूरत. नानपुरा क्षेत्र में चेकअप के दौरान महिला से बलात्कार करने के मामले में चार दिन बाद भी डॉ. प्रफुल्ल दोषी को पुलिस गिरफ्तार नहीं कर सकी है और पुलिस पर दबाव बढ़ता जा रहा है। ऐसे में शनिवार को डिप्टी पुलिस आयुक्त डी.एन.पटेल ने दावा किया कि डॉ.दोषी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने पर्याप्त सबूत जुटा लिए हैं और उसकी गिरफ्तारी के लिए प्रयास भी तेज कर दिए हंै।

हालांकि अब तक उसका पता नहीं चल पाया है।
उन्होंने बताया कि पूरे मामले की जांच गंभीरता से की जा रही है। मामला दर्ज होने के बाद से अभियुक्त फरार हो गया है। ऐसे में उसके संभवित ठिकानों पर पुलिस जांच कर रही है।

मुंबई की ओर भागने की आशंका को देखते हुए एक टीम मुंबई भी रवाना की गई है। इसके अलावा एसओजी, पीसीबी और क्राइम ब्रांच की टीम भी खोज में जुटी हुई हैं। डॉ.दोषी के करीबी दोस्त, रिश्तेदारों से भी पुलिस लगातार पूछताछ कर रही है। हालांकि अभी तक कोई सुराग नहीं मिल पाया है।

गौरतलब है कि नानपुरा क्षेत्र में निजी अस्पताल के संचालक डॉ.दोषी पर कतारगाम की एक महिला ने बलात्कार का आरोप लगाय है। आरोप है कि चेकअप के दौरान डॉ. दोषी ने उसे जान से मारने की धमकी दी और बलात्कार किया। अठवा पुलिस मामले की जांच कर रही है।


मदद करने वालों के खिलाफ भी होगी कार्रवाई


पुलिस ने बताया कि फरार अभियुक्त डॉ. दोषी के साथ यदि कोई संपर्क में है और उसे बचाने के लिए मदद कर रहा हो तो पुलिस उस व्यक्ति के खिलाफ भी आइपीसी की धारा 212 के तहत मामला दर्ज कर कार्रवाई करेगी।


कनाडा के पीआर के लिए दहेज मांगने का आरोप


सूरत. कनाडा का पीआर (परमानेंट रेजिडेंस) हासिल करने के लिए दहेज में लाखों रुपए की मांग करने का आरोप लगाते हुए एक विवाहिता ने अपने एनआरआई पति व ससुराल वालों के खिलाफ उमरा थाने में प्राथमिकी दर्ज करवाई है।

पुलिस के मुताबिक पीडि़ता की गत ७ जुलाई २०१६ को कनाडा के टोरंटो में रहने वाले तथा अहमदाबाद के निकोल निवासी प्रवीण अग्रवाल से हुई थी। शादी के दौरान प्रवीण, उसके पिता बजरंगलाल अग्रवाल, माता सरिता व दुबई में रहने वाली बहन चंचल व बहनोई चिराग ने कनाडा में स्थाई होने के लिए १७ लाख रुपए ले लिए थे, लेकिन शादी के चार दिन बाद ही उन्होंने और रुपए की मांग शुरू कर उसे प्रताडि़त करना शुरू कर दिया।

रुपए नहीं देने पर वे लगातार उसे प्रताडि़त करते रहे। कुछ दिन पूर्व मारपीट कर पहने हुए कपड़ों में घर से बाहर निकाल दिया। मारपीट से उसके हाथ में फेक्चर हो गया। सूरत आकर पीडि़ता ने प्राथमिकी दर्ज करवाई।

Ad Block is Banned