COVOD-19 हीरा के बाद कपड़ा बाजार निशाने पर

मिलने लगे संक्रमित तो सतर्क हुआ मनपा प्रशासन, अब कपड़ा बाजार भी पांच दिन ही खुलेंगे, नीति-नियम तय, फोस्टा को कराना होगा अमल

By: विनीत शर्मा

Published: 24 Jun 2020, 08:09 PM IST

सूरत. हीरा बाजार के बाद अब संक्रमण ने कपड़ा बाजार में भी अपनी पैठ बनानी शुरू कर दी है। टैक्सटाइल मार्केट में संक्रमितों के सामने आने के बाद मनपा प्रशासन ने हीरा की तरह कपड़ा बाजार को भी हफ्ते में पांच दिन ही खोलने की हिदायत दी है। साथ ही यहां भी कैंटीन सेवा बंद करने के निर्देश दिए हैं। फोस्टा को समन्वय कर मनपा की एसओपी पर अमल सुनिश्चित कराने के लिए कहा गया है।

अनलॉक 1.0 के बाद से ही हीरा बाजार खुले तो संक्रमितों की संख्या में भी खासा इजाफा देखने को मिला था। हीरा कारखानों से रोजाना बड़ी संख्या में संक्रमित मिलने शुरू हुए तो मनपा प्रशासन ने भी सख्ती बरतनी शुरू की थी। हीरा कारखानों में संक्रमण नहीं थमने पर धर्मनंदन डायमंड, शिवम ज्वैल्स और जेबी ब्रदर्स को सील करना पड़ गया था। इसके बाद शहर के हीरा उद्यमियों ने मनपा प्रशासन के साथ बैठक कर नए सिरे से स्थिति पर चर्चा की थी। महापौर डॉ. जगदीश पटेल और मनपा आयुक्त बंछानिधि पाणि की मौजूदगी में हुई बैठक में हीरा बाजार पांच दिन खोलने और कैंटीन सुविधा बंद करने समेत कई फैसले लिए गए थे। सूरत डायमंड एसोसिएशन को कमेटी गठित कर मनपा की पहले से तय एसओपी पर अमल सुनिश्चित कराने का निर्णय किया गया था।

टैक्सटाइल मार्केट में भी संक्रमितों के मिलने का सिलसिला शुरू हो गया है। इसे देखते हुए फोस्टा ने बुधवार को मनपा प्रशासन के साथ बैठक कर मौजूदा स्थिति से निपटने के उपायों पर चर्चा की। इस दौरान तय हुआ कि हीरा बाजार की तर्ज पर ही अब सूरत के कपड़ा बाजार को भी हफ्ते में पांच दिन ही खोला जाएगा। साथ ही यहां भी मार्केट्स में बनी कैंटीन को अगले आदेश तक बंद रखा जाएगा। अपरिहार्य कारणों से ही पूर्व अनुमति के बाद अवकाश के दिनों में शनिवार-रविवार को दुकान खोली जा सकेगी। साथ ही मार्केट की कैंटीन अगले आदेश तक बंद रहेगी। मार्केट और दुकानों को रोजाना सेनेटाइज करना होगा।

मनपा की पहले से तय एसओपी के मुताबिक मार्केट में आने वाले सभी लोगों को सेनेटाइज करना, मास्क लगाना और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। जिन लोगों में एआरआई के लक्षण दिखें उन्हें भी घर पर ही रहना होगा। मास्क के बगैर किसी को मार्केट में नहीं आने देना है। साथ ही दस वर्ष से कम और 65 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को भी मार्केट में नहीं आने दिया जाएगा। हर मार्केट एसोसिएशन को अपने मार्केट के टॉयलेट की सफाई के लिए एक व्यक्ति को नियत करना होगा।

विनीत शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned