accident : दर्दनाक हादसे के चारों आरोपी चार दिन के रिमांड पर


- चारों आरोपयिों की प्रत्यक्ष और परोक्ष भूमिका के बारे में पूछताछ
- कीम चौराहे के निकट बेकाबू डंपर के रौंदने से 15 श्रमिकों की मौत का मामला
- Inquiries about the direct and indirect role of the four accused
- Case of death of 15 workers due to uncontrolled dumper trampling near Kim Crossroads

By: Dinesh M Trivedi

Published: 22 Jan 2021, 08:55 AM IST

सूरत. कीम चौराहे के निकट हुए दर्दनाक हादसे के आरोप में पकड़े गए चारों आरोपियों को कोसंबा पुलिस ने गुरुवार को कोर्ट में पेश किया।

READ MORE : PATRIKA ALERT : कहीं परिश्रम की मीठी नींद से बंद आंखें फिर खुल ना पाए

मामले की जांच कर रहे पुलिस निरीक्षक वी.के.पटेल ने बताया कि कोर्ट ने चारों आरोपियों डंपर चालक मध्यप्रदेश के सिधी जिले के चिंत्रगी गांव निवासी पुनालाल श्रीराम केवट, डंपर के मालिक वराछा शिवदर्शन सोसायटी निवासी मनीष रोकड़, ट्रैक्टर चालक तापी जिले के ईटवाई गांव निवासी रमेश पाडवी, ट्रैक्टर के मालिक उमरपाडा देवरुपण गांव निवासी कोटेसिंह वसावा को 25 जनवरी तक पुलिस अभिरक्षा में रखने का आदेश दिया है।

READ MORE : Accident : ट्रैक्टर पर गन्ने की ओवरलोडिंग भी हादसे के लिए जिम्मेदार

रिमांड के दौरान चारों से हादसे के बारे में विस्तृत पूछताछ की जाएगी। हादसे में ओवरलोडिंग समेत अन्य कारणों में उनकी प्रत्यक्ष व परोक्ष भूमिका की जांच की जाएगी। यहां उल्लेखनीय है कि कीम चौराहे के निकट मांडवी रोड पर सपनानगर में सोमवार मध्यरात्रि एक खौफनाक हादसा हुआ था। सामने से आ रहे गन्ने से ओवर लोड ट्रैक्टर से टक्कर लगने के बाद एक डंपर बेकाबू हो गया था।

READ MORE : हादसा नहीं, सोची- समझी साजिश के तहत की थी पत्नी की हत्या

डंपर सडक़ निकट सीवरेज लाइन पर बनी ऊंची फुटपाथ पर चढ़ गया था। वहां सो 50 में से 21 प्रवासी श्रमिकों को रौंद डाला था। हादसे में राजस्थान और मध्यप्रदेश के 15 श्रमिकों की मौत हो गई थी। जबकि पांच दुकानों को क्षति पहुंची थी। मृतकों में अधिकतर राजस्थान के बांसवाड़ा जिले के कुशलगढ़ क्षेत्र के थे।

Show More
Dinesh M Trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned