प्रसव पीड़ा भी सह ली

प्रसव पीड़ा भी सह ली

Dinesh O.Bhardwaj | Publish: Apr, 23 2019 08:44:48 PM (IST) | Updated: Apr, 23 2019 08:44:49 PM (IST) Surat, Surat, Gujarat, India

लोकतंत्र के प्रति पूर्ण आस्था दिखाने मतदान केंद्र 362 पहुंची

सूरत. वेसू के आस्था अपार्टमेंट के दीपांशु की पत्नी रेशमा प्रसव पीड़ा से व्यथित होने के बावजूद लोकतंत्र के प्रति पूर्ण आस्था दिखाने मतदान केंद्र 362 पह पहुंची और मतदान किया। इसके बाद ही वो नजदीक के इशान होस्पीटल डिलीवरी के लिए अपने पति दीपांशु, सूरत टैक्सटाइल शॉप ब्रोकर एसोसिएशन के अध्यक्ष अमित शर्मा समेत अन्य के साथ पहुंची और वहां स्वस्थ शिशु को जन्म दिया। शिशु के जन्म के बाद रेशमा व उसके पति दीपांशु ने मतदान की स्याही लगी अंगुली की तस्वीर सोशल मीडिया के माध्यम से अन्य मतदाताओं को मतदान के लिए प्रेरित भी किया।

इंडोनेशिया से आए धर्मेंद्र


सूरत. लोकतंत्र में अपनी भागीदारी सुनिश्चित कर भविष्य की सरकार चुनने दूरदराज से ही नहीं बल्कि दूसरे देश से भी सूरती मतदाता यहां पहुंचे। इन्हीं में वेसू की नंदिनी सोसायटी के धर्मेंद्र खंडेलवाल भी शामिल रहे, जो इंडोनेशिया के पुर्वाकारटा से सूरत की उड़ान भरकर मतदान के लिए आए। मतदान के बाद इन्होंने अपने कर्तव्य निवर्हन की खुशी जाहिर की।


मतदान केंद्र के बाहर तक वाहन


समुद्री तट के निकट भीमपोर में सूरत महानगरपालिका संचालित शाला क्रमांक 73 में बने मतदान केंद्र के ठीक बाहर तक बेरोकटोक मतदाताओं से लदे वाहन बार-बार आते रहे। शाला के दरवाजे व मतदान केंद्र पर निर्वाचन विभाग कर्मचारी व पुलिसकर्मियों की मौजूदगी के बावजूद मतदाताओं को लाना ले जाना चलता रहा।

इन्हें धूप से परहेज नहीं


भीमपोर के मतदान केंद्र में अभिभावकों के साथ पहुंचे बच्चों ने शाला परिसर में मनोरंजन के संसाधनों का जमकर उपयोग तपती दुपहरी में भी किया। वहां लोग इन्हें देखकर बोल रहे थे इन्हें कड़ी धूप से कोई परहेज नहीं, क्योंकि इन्हें तो हर हाल में खेलना है। वहीं, बच्चों के अभिभावक अपना फर्ज निभाने के लिए कतार में खड़े थे।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned